घर में रस्सी से लटका मिला व्यक्ति का मृत शरीर, जाँच में जुटी पुलिस

घर में रस्सी से लटका मिला व्यक्ति का मृत शरीर, जाँच में जुटी पुलिस

असम के बक्सा जिले के तामुलपुर क्षेत्र में गांधीबाड़ी चौकी के भीतर द्वारकुची में एक किशोर का मृत शरीर मिलने से टकराव खड़ा हो गया है. दो बच्चों वाले आर्मीमैन बीरेन चंद्र बोरो के निर्माणाधीन कंक्रीट के घर में व्यक्ति का मृत शरीर रस्सी से लटका मिला.

शव की पहचान 22 वर्षीय जियाबुर रहमान के रूप में हुई है. वह मोरीगांव जिले के खारुपथर गांव के रहने वाले थे. लोकल लोगों के मुताबिक जब मृतक के परिजन फोन पर पहुंचे तो पता चला कि मृतक रंगिया इलाके में मजदूरी का कार्य करता था.

तामुलपुर रंगिया से करीब 25 किलोमीटर दूर है. मृत शरीर मिलने पर व्यक्ति के होंठ काले कपड़े में लपेटे हुए थे, जिससे घटना की संभावना जताई जा रही है. लोकल लोगों का मानना ​​है कि यह मर्डर का केस है क्योंकि मकान मालिक की पत्नी ने व्यक्ति को जानने से मना किया है. लोकल लोगों का मानना ​​था कि हो सकता है कि लुटेरों ने उसकी मर्डर करने से पहले उसपर काला कपड़ा डाल दिया हो और उसके शरीर को द्वारकुची के निर्माणाधीन घर पर लटका दिया हो.

मृतक के मृत शरीर को तमुलपुर पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है. पुलिस अब मुद्दे की जाँच कर रही है.


हरियाणा: बाइक में आग लगने से तीन युवकों की मौत, परिजनों ने कहा- 'यह हादसा नहीं बल्कि'

हरियाणा: बाइक में आग लगने से तीन युवकों की मौत, परिजनों ने कहा- 'यह हादसा नहीं बल्कि'

हरियाणा के हिसार में एक ही मोटरसाइकिल पर सवार 3 व्यक्तियों की संदिग्ध स्थिति में भयावह मृत्यु हो गई। एक्सीडेंट के पश्चात् मोटरसाइकिल बूरी तरह से जल गयी है तथा उस पर सवार तीनों व्यक्तियों की बॉडी भी जली हुई है। पुलिस इस मुद्दे को वैसे सड़क एक्सीडेंट बता रही है मगर मृतक के परिवार वालों का आरोप है कि ये एक्सीडेंट नहीं मर्डर का केस है।

खबर के मुताबिक, दिल्ली बाईपास पर होटल रेडवुड बना हुआ है। ये होटल आर्य नगर निवासी निशांत चलाता था। भट्टूकलां निवासी अजय एवं सूर्यनगर निवासी अभिषेक इस होटल पर काम करते हैं। बोला जा रहा है कि सोमवार तड़के 3 बजे के लगभग तीनों एक ही मोटरसाइकिल पर सवार होकर सेक्टर 27 उपस्थित गुजराती ढाबे पर खाना खाने के लिए गये थे।

वही खाना खाने के पश्चात् जब वो वापस जाने लगे तथा सातरोड के नजदीक पहुंचे तो किसी अज्ञात मोटरसाइकिल से उनकी टक्कर हो गयी तथा मोटरसाइकिल में आग लग गयी। इस हादसे में तीनों शख्स मारे गये। अब ये तो पोस्टमार्टम के पश्चात् साफ होगा कि तीनों की मौत जलने से हुई या फिर चोटों के कारण। घटना के पश्चात् राहगिरों ने तीनों को सामान्य हॉस्पिटल पहुंचाया मगर तब तक तीनों की मृत्यु हो चुकी थी। घटना की समाचार प्राप्त होने पर डीआईजी और हिसार के पुलिस अधीक्षक बलवान सिंह राणा भी मौके पर सिविल हॉस्पिटल पहुंचे। उन्होंने बताया कि प्रारंभिक जाँच में ये घटना एक्सीडेंट की लगती है। हालांकि, पुलिस की तरफ से परिवार वालों की कम्पलेन के आधार पर मर्डर के एंगल से भी तहकीकात की जा रही है तथा तहकीकात के लिए छह स्पेशल टीमें बना दी गयी हैं।