बस आने वाली है Coronavirus Vaccine, Moderna ने बताया कितनी होगी कीमत

बस आने वाली है Coronavirus Vaccine, Moderna ने बताया कितनी होगी कीमत

करीब एक साल से दुनिया में हाहाकार मचाने वाली कोरोना वायरस की महामारी के खिलाफ वैक्सीन कब आएगी, इस पर तो लोगों की निगाहें हैं ही, इस बात पर भी हैं कि असरदार और सुरक्षित वैक्सीन की कीमत कितनी होगी। अमेरिकी फार्मा कंपनी Moderna Inc ने बताया है कि उसकी कोरोना वायरस वैक्सीन के लिए सरकारों को एक खुराक की कीमत 25 (1,854) से 37 (2,744) डॉलर देनी होगी। सरकारें जितनी मात्रा में वैक्सीन का ऑर्डर देंगी, कीमत भी उसी के आधार पर तय होगी। कंपनी के चीफ एग्जिक्युटिव ऑफिसर स्टेफन बैंसल ने यह जानकारी दी है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि वैक्सीन की कीमत फ्लू के शॉट के बराबर होगी जो 10 से 50 डॉलर के बीच आता है।

यूरोपियन कमीशन के साथ बात

वैक्सीन के लिए यूरोपियन कमीशन Moderna के साथ डील करना चाहता है। लाखों खुराकों के लिए 25 डॉलर से कम दाम पर खरीद को लेकर डील की जा रही है। बैंसल ने बताया है कि अभी कुछ फाइनल नहीं हुआ है लेकिन बातचीत जारी है। उन्होंने कहा कि कंपनी यूरोप में डिलिवर करना चाहती है और सकारात्मक दिशा में बातचीत जारी है। दोनों के बीच जुलाई से डील पर बात चल रही है।

सबसे ज्यादा असरदार

इससे पहले Moderna ने बताया था कि उसकी वैक्सीन कोविड-19 को रोकने में 94.5% असरदार है। आखिर स्टेज के क्लिनिकल ट्रायल से मिले अंतरिम डेटा के आधार पर यह ऐलान किया गया था। Moderna के अलावा सिर्फ Pfizer ने इतने सफल नतीजे दिए हैं। Moderna की वैक्सीन भी उसी mRNA तकनीक पर आधारित है जिस पर Pfizer की वैक्सीन। युवाओं के साथ-साथ ज्यादा उम्र के लोगों में Moderna की वैक्सीन ने ऐंटीबॉडी पैद की जिसने वायरस के खिलाफ ऐक्शन किया।

Pfizer ने मांगा FDA अप्रूवल

अपनी कोरोना वायरस वैक्सीन को इमर्जेंसी में इस्तेमाल की इजाजत के लिए Pfizer ने अमेरिका के नियामक प्राधिकरण को आवेदन दिया है। माना जा रहा है कि यह प्रक्रिया पूरी होने पर अगले महीने सीमित संख्या में वैक्सीन की खुराकें तैयार हो सकती हैं। कंपनी ने कहा है कि वायरस से सुरक्षा के साथ गंभीर साइड इफेक्ट न होने से वैक्सीन इस्तेमाल के लिए फूड ऐंड ड्रग ऐडमिनिस्ट्रेशन (FDA) की इजाजत के लिए आवेदन कर सकती है। इसके बाद इसकी फाइनल टेस्टिंग भी की जा सकती है।

क्रिसमस तक आएगी ऑक्सफर्ड की वैक्सीन?

ऑक्सफर्ड यूनिवर्सिटी और AstraZeneca के वैक्सीन ट्रायल के लीडर प्रफेसर ऐंड्रू पोलार्ड का कहना है कि टीम को उम्मीद है कि क्रिसमस तक वैक्सीन को मंजूरी मिल जाएगी। उनका कहना है कि यह Pfizer से 10 गुना सस्ती होगी। दरअसल, Pfizer की वैक्सीन को -70 डिग्री सेल्सियस के तापमान पर रखना होगा और कुछ हफ्ते के अंतर पर दो इंजेक्शन लगाने होंगे। ऑक्सफर्ड की वैक्सीन को फ्रिज के तापमान पर रखना होगा।


यहाँ फूटा ज्वालामुखी, आसमान में चार किलोमीटर तक उठा धुआं, वीडियो देख रह जाएंगे दंग...

यहाँ फूटा ज्वालामुखी, आसमान में चार किलोमीटर तक उठा धुआं, वीडियो देख रह जाएंगे दंग...

भूकंप (Earthquake), तूफान (Storm), समुद्री तूफान और ज्वालामुखी (Volcano) ऐसी प्राकृतिक आपदाएं (Natural disaster) जो जिनके आने के बाद चारों ओर तबाही का मंजर ही नजर आता है. बीते रविवार (Sunday) को इंडोनेशिया (Indonesia) में भी इसी तरह की एक प्राकृतिक आपदा ने लोगों को हैरान कर दिया. दरअसल, इंडोनेशिया के पूर्वी नुसा तेंगारा प्रांत में रविवार (Sunday) को एक भयानक ज्वालामुखी विस्फोट (Volcano Erupts) हो गया. ये विस्फोट इतना खतरनाक था कि पूरा आसमान राख और धुएं के गुबार में कैद हो गया.

आसमान में कई किलोमीटर तक धुआं दिखाई दिया. जब ज्वालामुखी विस्फोट हुआ तब लोग चारों ओर भागते नजर आए. जैसे ही ज्वालामुखी में विस्फोट हुआ लोग हैरान रह गए क्योंकि इस ज्वालामुखी में ये विस्फोट अचानक हुआ था. इस ज्वालामुखी का प्रभाव चार किलोमीटर तक के इलाके में दिखाई दिया गया. इस ज्वालामुखी विस्फोट की कुछ तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहे हैं. यहां तक कि इस ज्वालामुखी का प्रभाव इतना ज्यादा था कि इस इलाके से 2,700 से ज्यादा लोगों को दूसरे स्थानों पर जाकर शरण लेनी पड़ी.

इंडोनेशिया की आपदा प्रबंधन एजेंसी के मुताबिक, अभी वहां लगभग 130 सक्रिय ज्वालामुखी हैं. बता दें कि इस तरह के ज्वालामुखी का इफैक्ट महीनों या फिर कई सप्ताह तक दिखाई देता है. बता दें कि जहां ये ज्वालामुखी विस्फोट हुआ वह स्थान राजधानी जकार्ता से लगभग 2,600 किलोमीटर दूर है. इले लेवोटोलोक में ज्वालामुखी विस्फोट के बाद से लोगों में दहशत का माहौल है.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स से बातचीत के दौरान 17 साल के मुहम्मद इल्हाम ने बताया कि धमाके के बाद से ही आसपास के निवासी घबराए हुए थे और वे अभी भी शरण की तलाश कर रहे हैं. सोशल मीडिया में वायरल हो रहे वीडियो और तस्वीरों में भी देखा जा सकता है कि ज्वालामुखी विस्फोट के बाद लोग चीखते हुए इधर-उधर भाग रहे हैं. वहीं पीछे ज्वालामुखी का लावा और धुआं नीले आसमान के बीच दिखाई दे रहा है.


रूस में कोरोना से नहीं रुक रहीं मौतें, दूसरे देशों से कोरोना से जुड़ी दवाओं को आयात करने मे जुटी सरकार       चीन का दावा, एससीओ बैठक में भारत से सकारात्मक संकेत, कई मुद्दों पर पहुंचे आम सहमति पर       Ind vs Aus 3rd ODI: तीसरे ODI में विराट अगर टॉस हारे तो जीतना हो सकता है मुश्किल, जानिए क्यों       पुलिस ने सुपर कार से पहुंचाई अस्पताल को किडनी, सफलता से हुआ मरीज का ट्रांसप्लांट       WhatsApp में आया कमाल का फीचर, बदल जाएगा चैटिंग का अंदाज, ऐसे कर पाएंगे इस्तेमाल       02 दिसंबर 2020 का राशिफल: सिंह राशि वालों के धन, सम्मान, यश और कीर्ति में वृद्धि होगी, दांपत्य जीवन सुखद होगा       LPG Gas Cylinder Price: दिसंबर में रसोई गैस मिलेंगे इस दाम पर, यहां से फटाफट कर सकते हैं चेक       Most Searched Celebrities In 2020: सबसे अधिक सर्च किये गये सुशांत सिंह राजपूत, जानिए रिया चक्रवर्ती की पोजिशन       कब है काल भैरव जयंती, जानें कैसा हुआ था इनका अवतरण       यूपी के प्राइवेट अस्पतालों तथा लैब में अब बेहद सस्‍ते में होगा Covid 19 Test, तीन गुना दाम घटाए, देखें शासनादेश       स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, साइड इफेक्ट के दावे के बावजूद जारी रहेगा ट्रायल, सभी को वैक्‍सीन देने की जरूरत नहीं       BJP के सहयोगी दल ने अमित शाह को लिखा पत्र- कृषि कानून वापस लो, अन्यथा नाता तोड़ लेंगे       यहाँ फूटा ज्वालामुखी, आसमान में चार किलोमीटर तक उठा धुआं, वीडियो देख रह जाएंगे दंग...       ऑनलाइन सुनवाई के दौरान बिना शर्ट पहने पहुंच गया युवक, फिर फूटा जज साहब का गुस्सा और फिर...       कतर में लाखों की सैलरी छोड़ छत पर कमल उगाना शुरू किया, आज विदेशों से मिल रहे ऑर्डर       अरुणाचल में ब्रह्मपुत्र पर बनेगा बड़ा बांध, चीन के पानी छोड़ने पर पूर्वोत्तर को बाढ़ से बचाएगा       मोटापा कम करने के इससे बेहतरीन घरेलू उपाय आसानी से नहीं मिलेंगे, देखें पूरी खबर...       जीवन को सुखमय बनाने के लिए अपने पार्टनर से शारीरिक संबंध कब और कितनी बार बनाएँ , जानें यहाँ बेस्ट सेक्स टाइम...       ये हैं बेहद अच्छे एक्सरसाइज, इनसे बनाएं अपने परफेक्ट एब्स...       जब ना खुले ‘हाय ब्लड प्रेशर’ का ताला, तो आयुर्वेद की चाबी दिखाएगी अपना जादू