इस टकराव में एक पक्ष के लोगो ने देर रात घर पर हमला कर एक ही परिवार की तीन स्त्रियों की चाकू से की हत्या

इस टकराव में एक पक्ष के लोगो ने देर रात घर पर हमला कर एक ही परिवार की तीन स्त्रियों की चाकू से की हत्या

बिहार के जहानाबाद में शीशम के पेड़ (Tree) को लेकर प्रारम्भ हुए टकराव में एक पक्ष के लोगो ने देर रात घर पर हमला कर एक ही परिवार की तीन स्त्रियों (Three woman a family attacked) को चाकू से गोद दिया। 

इस घटना में घायल हुई 16 वर्षीय युवती बेबी कुमारी (Died Baby Kumari) की पीएमसीएच (PMCH, Patna) ) पहुंचते ही मृत्यु हो गयी। वहीं इस घटना में गंभीर से घायल हुई दो स्त्रियों का पटना स्थित पीएमसीएच में उपचार चल रहा है।

शीशम के पेड़ को लेकर हुआ विवाद

ग्रामीणों ने बताया कि पिछले कई सालों से नरेश मोची व नंदू मोची में एक शीशम के पेड़ को लेकर टकराव चल रहा था। बीती रात उसी टकराव को लेकर नंदू मोची ने शराब पीकर नरेश मोची के घर पर गाली-गलौज प्रारम्भ कर दी। इस दौरान नरेश मोची के परिजनों व उनके दोस्तों ने मिलकर नंदू मोची की पिटाई कर दी। उसी पिटाई से नाराज नंदू मोची अपने अन्य सगे संबंधियों को लेकर नरेश मोची के घर पर पहुंच गए व घर पर उपस्थित तीनों स्त्रियों पर लाठी-डंडे से पिटाई कर दी व जाते-जाते नरेश मोदी की 65 वर्षीय मां गणपतिया देवी, पत्नी सरोजा देवी व बेटी 16 वर्षीय बेबी कुमारी के पेट में छुरा घोंप दिया। मां व पत्नी चाकू लगने से हुईं गंभीर रूप से घायल
इस हमले में बेबी देवी व सरोजा देवी के पेट में गंभीर जख्म हो गया जबकि वृद्ध गणपति या देवी के बांह में छुरा लग गया है। इस वारदात की सूचना पाकर गांव पहुंची परसबीघा पुलिस ने ग्रामीणों की सहायता से सभी घायलों को रात में ही सदर अस्पताल पहुंचाया। यहां घायलों की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें पीएमसीएच रेफर कर दिया गया है।

पीएमसीएच में हुई बालिका की मौत

पीएमसीएच पहुंचते ही बेबी कुमारी की मृत्यु हो गई है जबकि उसकी मां व दादी जिंदगी व मृत्यु से जूझ रही है। वहीं पुलिस ने हमला करने वाले नंदू मांझी को घायल अवस्था में हिरासत में लेकर छानबीन प्रारम्भ कर दी है। वैसे घटना से गांव में तनाव व्याप्त है।