टीपू सुल्‍तान के सिंहासन पर लगे सोने के बाघ के लिए ब्रिटिश खरीदार ढूंढ रहा ब्रिटेन

टीपू सुल्‍तान के सिंहासन पर लगे सोने के बाघ के लिए ब्रिटिश खरीदार ढूंढ रहा ब्रिटेन

नई दिल्‍ली मैसूर (Mysore) के शासक रहे के सिंहासन पर लगे सोने के बाघ (Golden Tiger) को विदेश में बचने पर ब्रिटेन (Britain) ने अस्‍थायी प्रतिबंध लगा दिया है दरअसल ब्रिटेन इन सोने के बाघों के लिए कोई ब्रिटिश खरीदार ढूंढ रहा है ब्रिटिश सरकार चाहती है कि वह अपने यहां उपस्थित इन ऐतिहासिक सामानों को इस तरह से बेचे कि वह हमेशा उसके देश में ही रहें बाघ के मुकुट में जड़े आभूषणों की मूल्य करीब 15 लाख पाउंड बताई जा रही है ब्रिटिश सरकार की इस पहल से ब्रिटेन की गैलरी या संस्‍था को इस तरह के ऐतिहासिक सामान खरीदने का वक्‍त मिल जाएगा

जानकारी के अनुसार टीपू सुल्‍तान के सिंहासन में आठ सोने के बाघ लगे हुए थे ब्रिटेन जिस सोने के बाघ का सिर बचने की बात कर रहा है वह इन आठ बाघों में से ही है टीपू सुल्तान को मैसूर के शेर के नाम से भी जाना जाता है सिंहासन की तीन जीवित समकालीन छवियां सभी ब्रिटेन में हैं

-

ब्रिटेन के कला मंत्री लॉर्ड स्टीफन पार्किंन्सन ने बोला बाघ के सिर पर लगा मुकुट टीपू सुल्‍तान के शासन की कहानी बताने के लिए बहुत ज्यादा है ये चमकदान मुकुट हमें टीपू सुलन के शाही इतिहास की ओर ले जाते हैं हम उम्‍मीद करते हैं कि ब्रिटेन से ही कोई आगे आएगा और इस ऐतिहासिक सोने के बाघ को खरीदेगा

-

ब्रिटेन के शाही अतीत में टीपू सुल्‍तान की हार का ऐतिहासिक महत्‍व है यही कारण है कि ब्रिटेन में टीपू सुल्‍तान की कहानी और उनके शासन से जुड़ी वस्‍तुओं का बहुत ज्यादा महत्‍व है टीपू सुल्‍तान से जुड़ी हर एक जानकारी ब्रिटिन नागरिकों को प्रभावित करती है टीपू सुल्‍तान की हार के बाद, टीपू के खजाने से कई वस्तुएं ब्रिटेन लाई गईं थी


घर में रस्सी से लटका मिला व्यक्ति का मृत शरीर, जाँच में जुटी पुलिस

घर में रस्सी से लटका मिला व्यक्ति का मृत शरीर, जाँच में जुटी पुलिस

असम के बक्सा जिले के तामुलपुर क्षेत्र में गांधीबाड़ी चौकी के भीतर द्वारकुची में एक किशोर का मृत शरीर मिलने से टकराव खड़ा हो गया है. दो बच्चों वाले आर्मीमैन बीरेन चंद्र बोरो के निर्माणाधीन कंक्रीट के घर में व्यक्ति का मृत शरीर रस्सी से लटका मिला.

शव की पहचान 22 वर्षीय जियाबुर रहमान के रूप में हुई है. वह मोरीगांव जिले के खारुपथर गांव के रहने वाले थे. लोकल लोगों के मुताबिक जब मृतक के परिजन फोन पर पहुंचे तो पता चला कि मृतक रंगिया इलाके में मजदूरी का कार्य करता था.

तामुलपुर रंगिया से करीब 25 किलोमीटर दूर है. मृत शरीर मिलने पर व्यक्ति के होंठ काले कपड़े में लपेटे हुए थे, जिससे घटना की संभावना जताई जा रही है. लोकल लोगों का मानना ​​है कि यह मर्डर का केस है क्योंकि मकान मालिक की पत्नी ने व्यक्ति को जानने से मना किया है. लोकल लोगों का मानना ​​था कि हो सकता है कि लुटेरों ने उसकी मर्डर करने से पहले उसपर काला कपड़ा डाल दिया हो और उसके शरीर को द्वारकुची के निर्माणाधीन घर पर लटका दिया हो.

मृतक के मृत शरीर को तमुलपुर पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है. पुलिस अब मुद्दे की जाँच कर रही है.