एक ऐसी प्रथा जिसमें लड़कियों को इस से बचाने के लिए अपनाई जाती है दर्दनाक प्रथा!

एक ऐसी प्रथा जिसमें लड़कियों को इस से बचाने के लिए अपनाई जाती है दर्दनाक प्रथा!

लड़कियां अक्सर प्रथाओं के नाम पर कुप्रथाओं की भेट चढ़ा दी जाती हैं। ऐसी ही एक अजीबो-गरीब प्रथा सामने आई। ये ख़बर देखने और सुनने में ही दिल दहला देने वाली है। खबर है कि लड़कियों का बलात्कार होने से बचाने के लिए अफ्रीका में एक दर्दनाक प्रथा का चलन है। वहां के लोगों का मानना है कि प्रथा का पालन करने से लड़कियों का रेप नहीं हो सकता और वो शादी से पहले गर्भवती नहीं होंगी। साथ ही कोई भी पुरुष लड़कियों पर बुरी नज़र नहीं डालेगा और वो सुरक्षित रहती हैं। 

अफ्रीका के कई देशों जैसे साउथ अफ्रीका, कैमरून और नाइजीरिया जैसी जगहों पर लड़कियों को रेप से बचने के लिए उन्हें असहनीय पीड़ा और दर्द से गुजरना होता है। इस अनोखी प्रथा का नाम है ‘ब्रेस्ट आयरनिंग’, जिसमें किशोरावस्था के शुरू होते ही लड़कियों के ब्रेस्ट को गर्म लकड़ी के टुकड़ों से दागा जाता है, ताकि वे बढ़ न सकें और सपाट रहें।

ब्रेस्ट आयरनिंग’ प्रथा में किशोरावस्था में ही लड़कियों के स्तन विकसित होने की प्रक्रिया को रोक दिया जाता है। लड़कियों के स्तनों को बढ़ने से रोकने के लिए उन्हें गर्म लोहे की छड़ों या गर्म पत्थर से दाग दिया जाता है, ताकि वो चपटे हो जाएं और बढ़ें नहीं। 10 साल से कम उम्र की कई लड़कियां भी हर रोज़ इस प्रथा का शिकार होती हैं। आपको जानकर बेहद हैरानी होगी कि लड़कियों की ‘ब्रेस्ट आयरनिंग’ कोई और नहीं बल्कि खुद लड़की की मां ही करती है।

‘ब्रेस्ट आयरनिंग’ के कारण महिलाओं को मानसिक एवं शारीरिक कष्टों का सामना करना पड़ता है। इनके स्तनों में दर्द होता है। चिकित्सकों का कहना है कि शरीर के संवदेनशील अंगों को इस तरह से दबाने से इन महिलाओं को कैंसर का खतरा हो सकता है।


यहां के लोग लोग अपने पूरे शरीर पर गुदवाते हैं राम नाम के टैटू

यहां के लोग लोग अपने पूरे शरीर पर गुदवाते हैं राम नाम के टैटू

यहां 100 सालों से भी ज्यादा लंबे वक्त से छत्तीसगढ़ की रामनामी समाज में एक अनोखी परंपरा चली आ रही है। इस समाज के लोग पूरे शरीर पर राम नाम का टैटू बनवाते हैं, लेकिन न मंदिर जाते हैं और न ही मूर्ति पूजा करते हैं। इस तरह के टैटू को लोकल लैंग्वेज में गोदना कहा जाता है। दरअसल, इसे भगवान की भक्ति के साथ ही सामाजिक बगावत के तौर पर भी देखा जाता है। टैटू बनवाने के पीछे है इनकी बगावत की कहानी।

यूं तो भारत को विविधताओं वाला देश कहा जाता है, यहां कि कुछ प्रथा व परंपरा ऐसी है जो हमें अचंभे में डाल देती है।यहां हर धर्म के लोग और हर धर्म का अलग-अलग स्वरुप देखने को मिलता है। भारत में एक ऐसा ही राज्य है छत्तीसगढ़ जहां एक अनोखी परंपरा है जिसे 'रामनामी' के नाम से जाना जाता है।

कहा जाता है कि 100 साल पहले गांव में हिन्दुओं के ऊंची जाति के लोगों ने इस समाज को मंदिर में घुसने से मना कर दिया था। इसके बाद से ही इन्होंने विरोध करने के लिए चेहरे सहित पूरे शरीर में राम नाम का टैटू बनवाना शुरू कर दिया। लोगों का मानना है कि, रामनामी समाज को रमरमिहा के नाम से भी जाना जाता है। कई लोग इस परंपरा को पिछले 50 सालों से निभा रहे हैं। वहां के लोग बताते हैं, जिस दिन मैंने ये टैटू बनवाया, उस दिन मेरा नया जन्म हो गया। 50 साल बाद उनके शरीर पर बने टैटू कुछ धुंधले से हो चुके हैं, लेकिन उनके इस विश्वास में कोई कमी नहीं आई है। रामनामी जाति के लोगों की आबादी तकरीबन एक लाख है और छत्तीसगढ़ के चार जिलों में इनकी संख्या ज्यादा है। सभी में टैटू बनवाना एक आम बात है।

इस समाज में पैदा हुए लोगों को शरीर के कुछ हिस्सों में टैटू बनवाना जरूरी है। खासतौर पर छाती पर और दो साल का होने से पहले। टैटू बनवाने वाले लोगों को शराब पीने की मनाही के साथ ही रोजाना राम नाम बोलना भी जरूरी है। ज्यादातर रामनामी लोगों के घरों की दीवारों पर राम-राम लिखा होता है। इस समाज के लोगों में राम-राम लिखे कपड़े पहनने का भी चलन है, और ये लोग आपस में एक-दूसरे को राम-राम के नाम से ही पुकारते हैं।

नखशिख राम-राम लिखवाने वालों ने बताया कि रामनामियों की पहचान राम-राम का गुदना गुदवाने के तरीके के मुताबिक की जाती है। शरीर के किसी भी हिस्से में राम-राम लिखवाने वाले रामनामी। माथे पर राम नाम लिखवाने वाले को शिरोमणि। और पूरे माथे पर राम नाम लिखवाने वाले को सर्वांग रामनामी और पूरे शरीर पर राम नाम लिखवाने वाले को नखशिख रामनामी कहा जाता है।


‘Aruvi’ के हिन्दी रीमेक में नजर आएंगी फातिमा सना शेख, कहा...       Virat Kohli अनुष्का शर्मा की हाइट को लेकर थे परेशान, जानें       Shweta Tiwari पलक तिवारी और रेयांश के साथ आई नजर       सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ नजर आएंगी रश्मिका मंदाना, Mission Majnu की शूटिंग लखनऊ में हुई शुरू       इस एक्टर के निधन की ख़बर सुनकर इसलिए सुन्न पड़ गये थे अभिषेक कपूर       Saif Ali Khan ने कोविड-19 वैक्सीन की ली डोज       इस एक्ट्रेस के बॉयफ्रेंड ने खेल मंत्री किरण रिजिजू से आयकर छापे मामले में मांगी मदद       क्या ‘इंडियन आइडल 12’ बंद होने जा रहा है? शो को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा       जेपी दत्ता और बिंदिया गोस्वामी की बेटी निधि जयपुर में कर रहीं शादी       ‘Liger’ का गोवा शेड्यूल हुआ पूरा, इस एक्ट्रेस ने शेयर किए पार्टी के फोटो       आज है श्री राम की भक्त माता शबरी की जयंती, जानें       आज है फाल्गुन मास की कालाष्टमी, इस मुहूर्त में करें पूजा       भगवान शिव ने स्वयं बताई है महाशिवरात्रि व्रत की महिमा, जानें       कैसे हुई थी माता शबरी की प्रभु श्री राम से मुलाकात       मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए शुक्रवार को जरुर करें ये उपाय       इस महाशिवरात्रि करें ये दो कार्य, आप पर होगी भगवान शिव की कृपा       कालाष्टमी आज, जानें मुहूर्त, राहुकाल एवं दिशाशूल       भगवान शिव ने क्यों लिया अर्धनारीश्वर अवतार, हमारे और आप से जुड़ा है कारण       क्या है कुंभ मेले में शाही स्नान का महत्व, विशेष फल की होती है प्राप्ति       कर्क राशि वालों को आर्थिक मामलों में सफलता मिलेगी, धन, यश और कीर्ति में वृद्धि होगी