इतने दिनों से हवालात में बंद हैं दो मुर्गे, इस जुर्म की भुगत रहे हैं सजा

इतने दिनों से हवालात में बंद हैं दो मुर्गे, इस जुर्म की भुगत रहे हैं सजा

चोरी करने या अन्य किसी आपराधिक घटना को अंजाम देने के चलते अक्सर पुलिस आरोपी को पुलिस जेल में बंद कर देती है। ऐसा ही कुछ तेलंगाना पुलिस ने भी किया। मगर हैरानी की बात यह है कि यहां दोषी कोई इंसान नहीं बल्कि दो मुर्गे हैं। जी हां, सुनने आपको भले ही ये बात अजीब लगे, लेकिन पुलिस ने दो मुर्गों को हवालात में डाला है। उन पर सट्टेबाजी का आरोप है। पुलिस ने इन्हें जनवरी में पकड़ा था। ये करीब 30 दिनों से लाॅकअप में बंद हैं। ये अनोखा किस्सा इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब सुर्खियां बंटोर रहा है।

बताया जाता है कि मकर संक्रांति के पर्व पर मुर्गों की लड़ाई ; का खेल चल रहा था। लोग इस पर सट्टा लगा रहे थे। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर जा पहुंची और वहां 10 लोगों को धर दबोचा। साथ ही पुलिस ने मुर्गों को भी पकड़ लिया। हालांकि पुलिस के आने से पहले ही वहां से कई लोग रफूचक्कर हो गए थे। कुछ दिनों बाद पुलिस के हिरासत में मौजूद लोग जमानत पर रिहा हो गए, लेकिन बेचारे मुर्गे जेल में ही फंसे रह गए। उन्हें न तो कोई छुड़ाने आया और ना ही किसी ने दावेदारी पेश की। लिहाजा पुलिस ने मुर्गों को सबूत के दौर पर हवालात में रख रखा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक स्थानीय पुलिस का कहना है कि इन मुर्गों को मामले की सुनवाई के बाद ही छोड़ा जा सकता है। जब अदालत से इन्हें छोड़ने का आदेश मिलेगा तो इनकी बोली लगेगी। सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले व्यक्ति को दोनों मुर्गे दे दिए जाएंगे। मालूम हो कि पुलिस ने तेलंगाना के खम्मम से 10 आरोपियों और दो मुर्गों को हिरासत में लिया था। उनके पास से बाइक भी बरामद की गई थी। मामला 10 जनवरी का है। तब से मुर्गे मिदिगोंडा पुलिस स्टेशन में बंद हैं।


एक ऐसी प्रथा जिसमें लड़कियों को इस से बचाने के लिए अपनाई जाती है दर्दनाक प्रथा!

एक ऐसी प्रथा जिसमें लड़कियों को इस से बचाने के लिए अपनाई जाती है दर्दनाक प्रथा!

लड़कियां अक्सर प्रथाओं के नाम पर कुप्रथाओं की भेट चढ़ा दी जाती हैं। ऐसी ही एक अजीबो-गरीब प्रथा सामने आई। ये ख़बर देखने और सुनने में ही दिल दहला देने वाली है। खबर है कि लड़कियों का बलात्कार होने से बचाने के लिए अफ्रीका में एक दर्दनाक प्रथा का चलन है। वहां के लोगों का मानना है कि प्रथा का पालन करने से लड़कियों का रेप नहीं हो सकता और वो शादी से पहले गर्भवती नहीं होंगी। साथ ही कोई भी पुरुष लड़कियों पर बुरी नज़र नहीं डालेगा और वो सुरक्षित रहती हैं। 

अफ्रीका के कई देशों जैसे साउथ अफ्रीका, कैमरून और नाइजीरिया जैसी जगहों पर लड़कियों को रेप से बचने के लिए उन्हें असहनीय पीड़ा और दर्द से गुजरना होता है। इस अनोखी प्रथा का नाम है ‘ब्रेस्ट आयरनिंग’, जिसमें किशोरावस्था के शुरू होते ही लड़कियों के ब्रेस्ट को गर्म लकड़ी के टुकड़ों से दागा जाता है, ताकि वे बढ़ न सकें और सपाट रहें।

ब्रेस्ट आयरनिंग’ प्रथा में किशोरावस्था में ही लड़कियों के स्तन विकसित होने की प्रक्रिया को रोक दिया जाता है। लड़कियों के स्तनों को बढ़ने से रोकने के लिए उन्हें गर्म लोहे की छड़ों या गर्म पत्थर से दाग दिया जाता है, ताकि वो चपटे हो जाएं और बढ़ें नहीं। 10 साल से कम उम्र की कई लड़कियां भी हर रोज़ इस प्रथा का शिकार होती हैं। आपको जानकर बेहद हैरानी होगी कि लड़कियों की ‘ब्रेस्ट आयरनिंग’ कोई और नहीं बल्कि खुद लड़की की मां ही करती है।

‘ब्रेस्ट आयरनिंग’ के कारण महिलाओं को मानसिक एवं शारीरिक कष्टों का सामना करना पड़ता है। इनके स्तनों में दर्द होता है। चिकित्सकों का कहना है कि शरीर के संवदेनशील अंगों को इस तरह से दबाने से इन महिलाओं को कैंसर का खतरा हो सकता है।


‘Aruvi’ के हिन्दी रीमेक में नजर आएंगी फातिमा सना शेख, कहा...       Virat Kohli अनुष्का शर्मा की हाइट को लेकर थे परेशान, जानें       Shweta Tiwari पलक तिवारी और रेयांश के साथ आई नजर       सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ नजर आएंगी रश्मिका मंदाना, Mission Majnu की शूटिंग लखनऊ में हुई शुरू       इस एक्टर के निधन की ख़बर सुनकर इसलिए सुन्न पड़ गये थे अभिषेक कपूर       Saif Ali Khan ने कोविड-19 वैक्सीन की ली डोज       इस एक्ट्रेस के बॉयफ्रेंड ने खेल मंत्री किरण रिजिजू से आयकर छापे मामले में मांगी मदद       क्या ‘इंडियन आइडल 12’ बंद होने जा रहा है? शो को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चा       जेपी दत्ता और बिंदिया गोस्वामी की बेटी निधि जयपुर में कर रहीं शादी       ‘Liger’ का गोवा शेड्यूल हुआ पूरा, इस एक्ट्रेस ने शेयर किए पार्टी के फोटो       आज है श्री राम की भक्त माता शबरी की जयंती, जानें       आज है फाल्गुन मास की कालाष्टमी, इस मुहूर्त में करें पूजा       भगवान शिव ने स्वयं बताई है महाशिवरात्रि व्रत की महिमा, जानें       कैसे हुई थी माता शबरी की प्रभु श्री राम से मुलाकात       मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए शुक्रवार को जरुर करें ये उपाय       इस महाशिवरात्रि करें ये दो कार्य, आप पर होगी भगवान शिव की कृपा       कालाष्टमी आज, जानें मुहूर्त, राहुकाल एवं दिशाशूल       भगवान शिव ने क्यों लिया अर्धनारीश्वर अवतार, हमारे और आप से जुड़ा है कारण       क्या है कुंभ मेले में शाही स्नान का महत्व, विशेष फल की होती है प्राप्ति       कर्क राशि वालों को आर्थिक मामलों में सफलता मिलेगी, धन, यश और कीर्ति में वृद्धि होगी