औसत से तीन गुना अधिक बरसा पानी, अभी पांच द‍िन तक रुक-रुककर होती रहेगी बार‍िश

औसत से तीन गुना अधिक बरसा पानी, अभी पांच द‍िन तक रुक-रुककर होती रहेगी बार‍िश

दो दिन पहले तक पूर्वी उत्तर प्रदेश के ऊपरी हवाओं में बना चक्रवाती हवा का क्षेत्र निम्न वायुदाब क्षेत्र के रूप में तब्दील हो चुका है। स्थान बदलकर इस क्षेत्र ने दक्षिण-पूर्व हिस्से में अपना डेरा जमा लिया है। इसके परिणाम स्वरूप पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश का माहौल बना हुआ है। आसमान में बादल जमे हुए हैं। बीते चैबीस घंटे में 39 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई। मौसम विभाग के अनुसार बारिश का यह आंकड़ा मध्यम बारिश का है।

औसत तीन गुना हुई बार‍िश

मौसम विशेषज्ञ कैलाश पांडेय के अनुसार रुक-रुक कर हल्की से मध्यम बारिश का सिलसिला 25 जून तक जारी रहेगा। जून में अबतक 271 मिलीमीटर बारिश हो रिकार्ड की जा चुकी है, जो औसत तीन गुना अधिक है।

ऐसा रहेगा मौसम

मौसम विशेषज्ञ ने बताया कि 23 जून तक बारिश की वजह निम्न वायुदाब क्षेत्र रहेगा, जबकि उसके बाद दो दिन की बारिश जम्मू के ऊपर बनने वाले पश्चिमी विक्षोभ के चलते होगी।

22 से 23 जून कुछ स्थानों पर बूंदाबांदी, कुछ स्थानों पर हल्की बारिश के आसार

उन्होंने बताया कि गणितीय माडल पर किए गए अध्ययन के मुताबिक 20 से 21 जून तक पूर्वी उत्तर प्रदेश के दक्षिणी हिस्से में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। 22 से 23 जून कुछ स्थानों पर बूंदाबांदी और कुछ स्थानों पर हल्की बारिश के आसार हैं। 24 से 25 जून तक हल्की बारिश का पूर्वानुमान है।

30 डिग्री तक रहेगा अधिकतम तापमान

इस दौरान 15 से 20 किलोमीटर की रफ्तार से पुरवा हवाओं के चलने का सिलसिला बना रहेगा। यह वायुमंडलीय परिस्थितियां तापमान को बढ़ने से रोके रखेंगी। 25 जून तक अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस के इर्दगिर्द ही रहेगा।

न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस

न्यूनतम तापमान भी 25 डिग्री सेल्सियस से अधिक नहीं होने पाएगा। रविवार की सुबह 24.3 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। अधिकतम तापमान के 29 डिग्री सेल्सियस रहने के पूर्वानुमान है।


बसपा की प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी की सफलता से मायावती प्रसन्न, बोलीं...

बसपा की प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी की सफलता से मायावती प्रसन्न, बोलीं...

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव 2022 में प्रदेश के 13 प्रतिशत ब्राह्मणों को जोड़ने के प्रयास में बहुजन समाज पार्टी की 23 जुलाई से चल रही प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी की सफलता पर पार्टी की मुखिया मायावती ने काफी प्रसन्नता व्यक्त की है। इसके साथ ही उन्होंने प्रदेश के अन्य दलों पर तंज भी कसा है। बसपा मुखिया मायावती ने इसको लेकर मंगलवार को दो ट्वीट भी किया है।

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान इंटरनेट मीडिया पर बेहद एक्टिव होने वाली उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि मेरे निर्देशन में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव तथा राज्यसभा सदस्य सतीश चंद्र मिश्रा ने उत्तर प्रदेश में 23 जुलाई से प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी प्रारंभ की है जो कि ब्राह्मण सम्मेलन के नाम से काफी चर्चा में है। मायावती ने कहा कि इसके प्रति प्रदेश में उत्साहपूर्ण भागीदारी यह प्रमाण है कि इनका बीएसपी पर सजग विश्वास है। जिसके लिए सभी का दिल से आभार।

मायावती ने कहा कि अयोध्या से 23 जुलाई को श्रीरामलला के दर्शन से शुरू हुआ प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी का यह कारवां अम्बेडकरनगर व प्रयागराज जिलों से होता हुआ प्रदेश में लगातार सफलतापूर्वक आगे बढ़ता जा रहा है। प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी से विरोधी पाॢटयों की नींद उड़ गई है। इसको रोकने के लिए अब यह सभी पाॢटयां प्रदेश में किस्म-किस्म के हथकण्डे अपना रही हैं। इनसे सावधान रहें।


बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि हमारी पार्टी के ब्राह्मण सम्मेलन में दिखने लगा है कि प्रबुद्ध वर्ग का बसपा पर सजग विश्वास है।