अब स्कूलों के प्रधानाचार्यों को मुफ्त टैबलेट बांटेगी योगी सरकार

अब स्कूलों के प्रधानाचार्यों को मुफ्त टैबलेट बांटेगी योगी सरकार

सरकारी हाईस्कूल/इंटर कॉलेजों के प्रधानाचार्यों को यूपी सरकार तकनीकी रूप से मजबूत बनाने की तैयारी कर रही है. इसलिए योगी सरकार अब स्कूलों के प्रधानाचार्यों को मुफ्त टैबलेट बांटेगी. सूबे के कुल 2285 सरकारी स्कूल में से 2204 सरकारी हाईस्कूल/इंटर कॉलेजों के प्रधानचार्यों का चयन कर लिया गया है. हर स्कूल को प्रति टैबलेट 10 हजार रुपए दिए जाएंगे. इस मद में सरकार को दो करोड़ रुपए खर्च करने पड़ेंगे.


काम में होगी सरलता :- उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अनुपूरक बजट में ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन और डिप्लोमा कोर्स कर रहे छात्र-छात्राओं को Smart Phone और टैबलेट देने के लिए धन की व्यवस्था की थी. इसके साथ ही अब योगी सरकार 2204 प्रधानाचार्यों को टैबलेट देने जा रही है. प्रिंसिपल प्रारम्भ में लर्निंग आउटकम समेत उत्तर प्रदेश बोर्ड के रिजल्ट का विश्लेषण भी इसी पर करेंगे. साथ ही टैबलेट स्कूल में होने से कई तरह के कार्य स्कूल स्तर पर ही किए जा सकेंगे. इससे निरीक्षण की रिपोर्ट, हालत पना सुविधाएं और अन्य कई तरह की जानकारियों का आदान-प्रदान मिनटों में हो जाएगा.

परफार्मेंस ग्रेडिंग इण्डेक्स प्रारम्भ :- केंद्र सरकार ने परफार्मेंस ग्रेडिंग इण्डेक्स की आरंभ की है और इसके अनुसार हर सरकारी स्कूल में कई तरह की सुविधाएं दी जा रही हैं. टैबलेट भी इनमें से एक है.


प्राइमरी स्कूलों को भी मिलेगा टैबलेट :- प्राइमरी एजुकेशन में सभी 1,59,043 सरकारी स्कूलों, 880 खण्ड एजुकेशन ऑफिसरों और 4400 अकादमिक रिसोर्स पर्सन (एआरपी) को ये टैबलेट दिए जाएंगे. इससे स्कूलों की मॉनिटरिंग सरल होगी बल्कि शिक्षकों की हाजिरी भी बायोमीट्रिक ढंग से ली जा सकेगी.


UP: जौनपुर में गिरा दो मंजिला जर्जर मकान, 5 लोगों की मौके पर मौत, 6 घायल

UP: जौनपुर में गिरा दो मंजिला जर्जर मकान, 5 लोगों की मौके पर मौत, 6 घायल

उत्तर प्रदेश के जौनपुर (Jaunpur) शहर कोतवाली क्षेत्र के बड़ी मस्जिद के पीछे मोहल्ला रोजा अर्जन में गुरुवार की देर रात जर्जर दो मंजिला कच्चा मकान आकस्मित गिर गया बताया जा रहा है कि रात को सोते समय हादसे में 11 लोग मलबे में दब गए जिसमें से एक महिला और तीन बच्चे समेत पांच लोगों की मलबे में दबकर मौके पर मृत्यु हो गई जबकि 6 लोगों घायल हो गए जिन्हें उपचार के लिए जिला हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है मकान गिरने की सूचना मिलते ही इलाके में हड़कंप मच गया

जानकारी होने के बाद जिला प्रशासन राहत बचाव कार्य में जुट गया सभी घायलों को उपचार के लिए जिला हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है जहां घायलों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है सूचना मिलने पर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा और पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी मौके पर पहुंचकर राहत और बचाव काम कराते हुए सभी को जिला हॉस्पिटल पहुंचाया एसपी के अनुसार मलबे में दबे सभी लोगों को बाहर निकाल लिया गया है

बता दें कि जौनपुर नगर मोहल्ला रौज़ा अर्जन में कमरूद्दीन और जलालुदीन का तीन मंजिला मकान था जो पुराना और जर्जर हो गया था रात लगभग 11 बजे परिवार के कुछ मेम्बर सो रहे थे वहीं कुछ लोग बैठकर बातें कर रहे थे कि इसी दौरान पूरा मकान भरभरा कर गिर गया जिसमें चांदनी (18), शन्नो (55), गयासुद्दीन (17), मोहम्मद असाउददीन (19), हेरा (10) और स्नेहा (12), संजीदा (37), मोहम्मद कैफ (8), मिस्बाह (18) और पड़ोस के अजीमुल्लाह (68)दब गए. लोकल लोगों और जिला प्रशासन ने दबे लोगों को निकाल कर घायलावस्था में जिला हॉस्पिटल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने संजीदा पुत्री जमालुद्दीन, अजीमुल्ला पुत्र कतवारू, मोहम्मद कैफ पुत्र जमालुद्दीन, मोहम्मद सेफ पुत्र जमालुद्दीन और मिस्वाह पुत्री जमालुद्दीन को मृत घोषित कर दिया

रेस्क्यू ऑपरेशन खत्म
अन्य 6 घायलों का उपचार जिला हॉस्पिटल में चल रहा है हादसे की सूचना पर पुलिस और फायर ब्रिगेड के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और राहत और बचाव काम प्रारम्भ किया कई लोगों के रात में दबे होने की वजह से आधी रात के बाद भी राहत और बचाव काम चलता रहा प्रशासनिक ऑफिसरों के मुताबिक आधी रात के बाद पूरी तसल्ली होने के बाद ही अभियान समाप्त किया गया हादसे के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मचा हुआ है