जनता दर्शन में सीएम योगी से बोले फर‍ियादी- थाने पर नहीं हो रही सुनवाई, आप ही कुछ कर‍िए महराज

जनता दर्शन में सीएम योगी से बोले फर‍ियादी- थाने पर नहीं हो रही सुनवाई, आप ही कुछ कर‍िए महराज

दो दिन के दौरे पर गोरखपुर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुण्यतिथि समारोह में हिस्सा लेने से पहले गोरखनाथ मंदिर के हिंदू सेवाश्रम में जनता दर्शन किया। इस दौरान उन्होंने करीब 150 लोगों की समस्या सुनी और निस्तारण का आश्वासन दिया। हमेशा की तरह इस बार भी जनता दर्शन में पुलिस से जुड़े मामले ज्यादा आए। ऐसे सभी लोगों की शिकायत थी कि पुलिस उनके मामले में रुचि नहीं ले रही। सीएम ने इस पर अध‍िकार‍ियों को चेतावनी दी।

सीएम ने अध‍िकार‍ियों को चेताया, कहा- समय से कराएं समस्‍याओं का न‍िस्‍तारण

थाने में कोई सुनवाई नहीं होती। इस पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को चेताया कि थाने पर समस्याओं का निस्तारण सुनिश्चित कराएं, जिससे लोगों को न्याय के लिए भटकना न पड़े। मामले में निस्तारण में टाल-मटोल करने वाले पुलिस अफसरों पर कार्रवाई का निर्देश भी मुख्यमंत्री ने दिया।


ऐसी रही सीएम की द‍िनचर्या

गुरु गोरक्षनाथ और ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ का दर्शन पूजन के बाद मुख्यमंत्री गोशाला और मंदिर परिसर का भ्रमण करने के बाद जनता दर्शन के लिए हिंदू सेवाश्रम पहुंचे, जहां दूर-दराज से आए लोग अपनी समस्या कहने के लिए उनका इंतजार कर रहे थे। मुख्यमंत्री बारी-बारी से सभी के पास गए और उनका शिकायती पत्र अपने हाथों से लिया।

जोर-जोर से रोने लगी मह‍िला

इस दौरान जब एक महिला जोर-जोर से रोने लगी तो मुख्यमंत्री ने अधिकािरयों को उसकी समस्या के तत्काल निस्तारण का निर्देश दिया। जनता दर्शन में राजस्व से जुड़े मामले भी पर्याप्त मात्रा में आए।

जनता दर्शन में एक घंटे तक रहे सीएम

जनता दर्शन के लिए मुख्यमंत्री ने करीब एक घंटे का समय दिया। वहां से लौटने के बाद मंदिर कार्यालय के लाल कक्ष में भी मुख्यमंत्री ने 50 से ज्यादा लोगों की समस्याएं सुनीं।

जनता दर्शन में यह अधिकारी रहे मौजूद

इस दौरान कमिश्नर रवि कुमार एनजी, एडीजी पुलिस अखिल कुमार, डीएम विजय किरन आनंद, एसएसपी विपिन ताडा आदि अफसर मौजूद रहे।


UP: जौनपुर में गिरा दो मंजिला जर्जर मकान, 5 लोगों की मौके पर मौत, 6 घायल

UP: जौनपुर में गिरा दो मंजिला जर्जर मकान, 5 लोगों की मौके पर मौत, 6 घायल

उत्तर प्रदेश के जौनपुर (Jaunpur) शहर कोतवाली क्षेत्र के बड़ी मस्जिद के पीछे मोहल्ला रोजा अर्जन में गुरुवार की देर रात जर्जर दो मंजिला कच्चा मकान आकस्मित गिर गया बताया जा रहा है कि रात को सोते समय हादसे में 11 लोग मलबे में दब गए जिसमें से एक महिला और तीन बच्चे समेत पांच लोगों की मलबे में दबकर मौके पर मृत्यु हो गई जबकि 6 लोगों घायल हो गए जिन्हें उपचार के लिए जिला हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है मकान गिरने की सूचना मिलते ही इलाके में हड़कंप मच गया

जानकारी होने के बाद जिला प्रशासन राहत बचाव कार्य में जुट गया सभी घायलों को उपचार के लिए जिला हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है जहां घायलों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है सूचना मिलने पर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा और पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी मौके पर पहुंचकर राहत और बचाव काम कराते हुए सभी को जिला हॉस्पिटल पहुंचाया एसपी के अनुसार मलबे में दबे सभी लोगों को बाहर निकाल लिया गया है

बता दें कि जौनपुर नगर मोहल्ला रौज़ा अर्जन में कमरूद्दीन और जलालुदीन का तीन मंजिला मकान था जो पुराना और जर्जर हो गया था रात लगभग 11 बजे परिवार के कुछ मेम्बर सो रहे थे वहीं कुछ लोग बैठकर बातें कर रहे थे कि इसी दौरान पूरा मकान भरभरा कर गिर गया जिसमें चांदनी (18), शन्नो (55), गयासुद्दीन (17), मोहम्मद असाउददीन (19), हेरा (10) और स्नेहा (12), संजीदा (37), मोहम्मद कैफ (8), मिस्बाह (18) और पड़ोस के अजीमुल्लाह (68)दब गए. लोकल लोगों और जिला प्रशासन ने दबे लोगों को निकाल कर घायलावस्था में जिला हॉस्पिटल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने संजीदा पुत्री जमालुद्दीन, अजीमुल्ला पुत्र कतवारू, मोहम्मद कैफ पुत्र जमालुद्दीन, मोहम्मद सेफ पुत्र जमालुद्दीन और मिस्वाह पुत्री जमालुद्दीन को मृत घोषित कर दिया

रेस्क्यू ऑपरेशन खत्म
अन्य 6 घायलों का उपचार जिला हॉस्पिटल में चल रहा है हादसे की सूचना पर पुलिस और फायर ब्रिगेड के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और राहत और बचाव काम प्रारम्भ किया कई लोगों के रात में दबे होने की वजह से आधी रात के बाद भी राहत और बचाव काम चलता रहा प्रशासनिक ऑफिसरों के मुताबिक आधी रात के बाद पूरी तसल्ली होने के बाद ही अभियान समाप्त किया गया हादसे के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मचा हुआ है