35 वर्षीय युवक फंदे पर झूला ,डिप्रेशन में महिला ने दे दी जान

35 वर्षीय युवक फंदे पर झूला ,डिप्रेशन में महिला ने दे दी जान

गोरखपुर के दो थाना क्षेत्रों में शुक्रवार की सुबह एक पुरुष और स्त्री ने सुसाइड कर लिया. कैंट क्षेत्र के इंजीनि​यरिंग कॉलेज अभिषेक नगर में जहां 35 वर्षीय पुरुष फंदे पर झूल गया वहीं चौरीचौरा के डुमरी खास में 35 वर्षीय स्त्री ने फांसी लगा ली. सूचना पर पहुंची दोनों थानों की पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. साथ ही फोरेंसिक टीम ने भी मौके पर पहुंचकर साक्ष्य इकठ्ठा किया.

कैंट क्षेत्र में कमरे में फंदे से झूला युवक
पुलिस के मुताबिक कैंट क्षेत्र के इंजीनियरिंग कॉलेज चौकी के अभिषेक नगर कॉलोनी सिंघड़िया निवासी सुभाष मिश्रा शहर में प्राइवेट जॉब करते हैं. वह अपनी पत्नी, बेटे और बहू के साथ रहते हैं. उनके बेटे ऋषिकेश मिश्रा उर्फ मोनू की करीब 5 साल पहले विवाह हुई थी. ऋषिकेश ने शुक्रवार की सुबह अपने कमरे में पंखे से गमछे का फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया. उसकी पत्नी छत पर सोई थी.

सुबह पत्नी चाय लेकर गई तो वह फंदे से लटका हुआ था. सूचना पर तुरन्त डॉयल 112 की पीआरवी और चौकी की पुलिस मौके पर पहुंच गई. मौके पर फोरेसिंक टीम को भी बुला लिया गया. जांच के बाद पुलिस ने मृत शरीर को नीचे उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. घरवाले खुदकुशी का कारण नहीं बता पा रहे है. वहीं चर्चा है कि पुरुष जॉब न मिलने से डिप्रेशन में चल रहा था. चौकी इंचार्ज अमित चौधरी ने बताया कि प्रारंभिक जांच में पुरुष के सुसाइड करने की बात सामने आ रही है. फोरेंसिक टीम ने जांच किया है. पोस्टमार्टम के बाद स्थिति साफ होगी.

चौरीचौरा में स्त्री ने फंदा लगाया
डुमरी खास के कस्बा टोला निवासी मन्नू यादव की पत्नी 35 वर्षीय प्रियंका यादव ने गुरुवार की रात लगभग 10 बजे घर के अंदर फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर लिया. मन्नू यादव ने बताया कि घर के सभी लोग घोठ पर थे. उसी दौरान प्रियंका ने यह कदम उठा लिया. घोठ से आने के बाद घटना की जानकारी होने पर मन्नू ने अपने ससुराल के लोगों और पुलिस को इसकी सूचना दी.

प्रियंका के मायके के लोग रात में ही पहुंचे और मृत शरीर के आखिरी संस्कार की बात कही. मन्नू के परिजनों ने किसी भी तरह के टकराव होने से इंकार किया. स्त्री चार बच्चों 8 वर्षीय अम्बरीष, 5 वर्षीय अमृता, 3 वर्षीय गीतांजलि और एक साल का डिम्पल की मां थी. मन्नू की विवाह 14 साल पूर्व देवरिया जिले के रामपुर कारखाना थाना क्षेत्र के सिंधुवां में हुआ था. पुलिस मुद्दे की जांच कर रही है.