22 वर्षीय शनि निषाद ने पेड़ से लटककर सुसाइड नहीं किया

22 वर्षीय शनि निषाद ने पेड़ से लटककर सुसाइड नहीं किया

चाफा गांव निवासी 22 वर्षीय शनि निषाद ने पेड़ से लटककर सुसाइड नहीं किया था, बल्कि उसकी गला दबाकर मर्डर की गई थी.

गोरखपुर के खोराबार क्षेत्र के चाफा गांव निवासी 22 वर्षीय शनि निषाद ने पेड़ से लटककर सुसाइड नहीं किया था. बल्कि उसकी गला दबाकर मर्डर की गई थी और सुसाइड दिखाने के लिए मृत शरीर को सनहा गांव के ताल के किनारे पेड़ से फंदा लगाकर लटका दिया गया था.

इसकी पुष्टि पुरुष के पोस्टमार्टम रिर्पोट से हुई है. पोस्टमार्टम रिर्पोट में मृत्यु का कारण आस्पीसिया यानि दम घुटना आया है. दम घुटना तभी आता है जब किसी का गला दबाया जाए. जबकि फांसी लगाकर सुसाइड करने में हैंगिग आता है. उधर पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मर्डर की पुष्टि होने के बाद मंगलवार की शाम पुरुष की मां ने गांव की ही एक लड़की, लड़की के भाई और लड़की के प्रेमी के विरूद्ध तहरीर देकर मर्डर का आरोप लगाया है.

प्रेमिका से छेड़खानी की बात को लेकर आरोपियों ने की थी पिटाई
युवक की मां गायत्री देवी ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया कि तीन से चार दिन पूर्व शनि अपने घर की छत पर सुबह मोबाइल में गाना सुन रहा था. उसी दिन शाम को गांव का एक पुरुष नाराजगी भरे लहजे में शनि से बोला कि तुम छत पर बैठकर मोबाइल से गाना बजाकर बगल में रहने वाली मेरी प्रेमिका से छेड़खानी कर रहे हो. यह आरोप लगाते हुए उसने शनि को मारापीटा और धमकी दिया कि यह हरकत नहीं छोड़ोगे तो जान से मार दूंगा.

युवक ने इसकी जानकारी अपनी मां को दी थी. जिसके बाद मां और अन्य ग्रामीणों ने आरोपी पुरुष से बोला कि शनि को समझा दिया जाएगा. आरोप है कि उक्त लड़की, उसका भाई और लड़की के प्रेमी ने शनि की मर्डर कर दी और मृत शरीर को पेड़ से लटका दिया ताकि यह सुसाइड लगे. इस संबंध में इंस्पेक्टर नरेंद्र कुमार सिंह का बोलना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक मृत्यु की वजह आस्पीसिया आया है. तहरीर मिली है.आरोपों की जांच की जा रही है. जांच के बाद आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

यह हुई थी घटना
11 जून 2022 की सुबह खोराबार क्षेत्र के सनहा ताल के किनारे एक पेड़ पर चाफा गांव निवासी शनि का मृत शरीर फंदे से लटका मिला था. वह 10 जून की रात घर से ब्रम्हभोज कार्यक्रम में शामिल होने गया था. तभी से घर नहीं लौटा था. उस समय परिजनों ने बताया था कि वह एक आदमी से ब्याज पर पैसे लिया था. पैसे देने वाला अक्सर पैसे की मांग कर रहा था. ब्रम्हभोज में भी पैसे देने वाले से शनि की मुलाकात होने की बात पुलिस से घरवालों ने बताई थी. मृत शरीर रेशम की रस्सी से लटका था और सिर आगे की तरफ झुका था. जबकि मुंह हल्की खुला हुआ था. आंखें बंद थी. पुरुष तीन भाइयों में दूसरे नंबर का था. उसकी विवाह नहीं हुई थी. वह पिता गोविंद, भाई सूरज और छोटे भाई विरजू के साथ पेंट पालिश करता था. दो महीने पहले वह घर आया था.