घर में नमाज पढ़ रही महिला की उसके पड़ोसी ने कर दी हत्या

घर में नमाज पढ़ रही महिला की उसके पड़ोसी ने कर दी हत्या

बरेली. शाहजहांपुर के थाना आरसी मिशन क्षेत्र में घर में नमाज पढ़ रही स्त्री की उसके पड़ोसी ने मर्डर कर दी. बचाने आई स्त्री की बेटी की भी मर्डर की प्रयास की गई जिसे घायल हालत में हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया. स्त्री के पड़ोसी दाऊद स्त्री पर चाकू और लोहे की रॉड से हमला किया. इसी तरह उसकी बेटी पर भी हमला हुआ जिसे बाद में राजकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया जहां से लखनऊ रेफर कर दिया गया. बताया जा रहा है कि स्त्री के बेटे ने मर्डर करते हुए दाऊद को देखा. उसने शोर मचाया तो शोर-शराबा होने पर दाऊद फरार हो गया. स्त्री का आठ वर्ष का बेटा मर्जर का गवाह है जिसने अपनी आंखों के सामने अपनी मां को मरते देखा.

मौके पर पहुंची पुलिस को लड़के ने बताया कि अम्मी नमाज पढ़ रहीं थी और दीदी कमरे में थी. मैं खेल रहा था. तभी वो हाथ में चाकू-डंडा लेकर घर में घुसा. उसने पहले अम्मी के दुपट्टे से फंदा लगाकर गिरा लिया और चाकू से सिर पर मारने लगा. जब वह लहूलुहान होकर गिर पड़ीं तो दीदी के पास गया और उसकी गर्दन को दबाकर सिर पर लोहे की रॉड से कई बार मारा. मैं चीखता रहा. मैं चीखते हुए बाहर भागा तो उसने मेरा पीछा किया. यदि नहीं भागता तो मुझे भी मार देता. बेटे ने बताया कि वह चीख-चीख कर उससे मां और बहन को छोड़ने के लिए कह रहा था. जानकारी के अनुसार आरोपी लड़की को धार्मिक पुस्तक पढ़ाने आता था. दो साल पहले उसकी एक गलत हरकत के कारण उसके घर पर आने पर रोक लगा दी गई थी. तभी से वह इस परिवार के साथ अभद्रता करता था. 

पुलिस का बोलना है कि आरोपी सुबह और शाम पीड़ित परिवार के घर की रेकी कर रहा था. मृतका के बड़े बेटे के मुताबिक, उसका साथ मोहल्ले का एक और आदमी भी दे रहा था. तीन दिन से दाऊद की हरकतें काफी अधिक बढ़ गई थी. बृहस्पतिवार रात को दाऊद ने घर में घुसकर सभी बल्ब निकाल कर अंधेरा कर दिया. उसके बाद छत पर जाकर पर्दे फाड़ डाले थे. भय के चलते परिजन कमरे में छिप गए थे.