जब ब्रैडमैन की ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट सीरीज में हिंदुस्तान को दी थी पटखनी

जब ब्रैडमैन की ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट सीरीज में हिंदुस्तान को दी थी पटखनी

नई दिल्ली: क्रिकेट की दुनिया में जब हिंदुस्तान  ऑस्ट्रेलिया (india vs australia) के बीच टेस्ट क्रिकेट खेली जाती है तो कुछ ऐसे बल्लेबाजी प्रदर्शन होते हैं जो कहानियां बन जाते हैं. विराट कोहली (Kohli) की कप्तानी वाली भारतीय टीम (Indian Team ) दिसंबर में चार मैचों की टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया (australia) से भिड़ेगी  बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी (Border-gavaskar trophy) का बचाव करने उतरेगी. यदि दोनों राष्ट्रों के बीच 1947-48 में हुई पहली टेस्ट सीरीज में खेली गई कुछ शानदार पारियों पर नजर डाले तो इस सीरीज में हालांकि लाला अमरनाथ (Lala Amarnath) की कप्तानी वाली भारतीय टीम को महान बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमेन (don bradman) की कप्तानी वाली ऑस्ट्रेलिया ने 4-0 से हरा दिया था.

विजय हजारे 116  145 (चौथा टेस्ट एडिलेड) :
तीसरे टेस्ट मैच में 233 रनों से करारी शिकस्त खाने के बाद हिंदुस्तान के पास मौका था कि वह बाकी के बचे दो टेस्ट मैच जीत सीरीज में पराजय को टाल दे. लेकिन ऑस्ट्रेलिया जैसी मजबूत टीम के सामने उसके घर में खेलते हुए अमरनाथ की टीम के लिए यह बस से बाहर की बात थी. एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 674 रन बनाए. ब्रैडमेन ने 201  लिंडसे हासेट ने नाबाद 198 रन बनाए. हिंदुस्तान की आरंभ अच्छी नहीं रही. उसने छह रनों पर ही अपने दो विकेट खो दिए. अतिथि टीम ने वापसी करते हुए स्कोर तीन विकेट पर 127 रन कर लिया. 133 पर हालांकि हिंदुस्तान ने अपने कुल पांच विकेट खो दिए.

इसके बाद दाएं हाथ के बल्लेबाज विजय हजारे ने शानदार पारी खेली. उसने  दत्तू फाडकर ने छठे विकेट के लिए 188 रन जोड़े. फाडकर ने बेहतरीन 123 रन बनाए, लेकिन जिस बल्लेबाज ने सुर्खियां बटोरी वह थे, हजारे जिन्होंने क्लास बल्लेबाजी करते हुए 116 रन बनाए. उनकी 303 गेंदों की पारी में 14 बाउंड्रीज शामिल थीं. भारतीय टीम हालांकि 381 रन ही बना पाई  ऑस्ट्रेलिया के स्कोर से 293 से पीछे रह गई. ब्रैडमैन की टीम ने हिंदुस्तान को फॉलोऑन के लिए बुलाया.

दूसरी पारी में हिंदुस्तान की आरंभ  बेकार रही. उसने शून्य पर ही अपने दो विकेट खो दिए. इसके बाद हजारे ने शानदार पारी खेली जो ब्रैडमैन की 201 रनों की पारी पर भी भारी पड़ी. हजारे ने 372 गेंदों का सामना किया  17 बाउंड्रीज की सहायता से 145 रन बनाए. इस पारी के दम पर वह हिंदुस्तान के पहले बल्लेबाज बने, जिसने टेस्ट में दोनों पारियों में शतक जमाया हो. हिंदुस्तान दूसरी पारी में 277 रन ही बना पाई  पारी तथा 16 रनों से मैच पराजय गई.

विनोद मांकड 111 रन (पांचवां टेस्ट, मेलबर्न) :
ब्रैडमैन की टीम का दबदबा मेलबर्न में खेले गए पांचवें  अंतिम टेस्ट में भी जारी रहा. ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी आठ विकेट पर 573 रनों पर घोषित कर दी. नील हार्वे ने 153 रन बनाए  विलियम ब्राउन एक रन से शतक से चूक गए. स्कोरबोर्ड पर तीन रन ही थे कि हिंदुस्तान ने अपने नमस्कार ी बल्लेबाज चंदू सरवटे को खो दिया. उनके साथ पारी की आरंभ करने आए मांकड ने पारी की उत्तरदायी ी संभाली  हेमू ऑफिसर के साथ मिलकर टीम को संकट से बाहर निकाला. दूसरे विकेट के लिए इन दोनों ने 124 रन जोड़े. ऑफिसर 202 गेंदों पर 38 रन ही बना पाए.

हजारे एक बार फिर बल्लेबाजी करने उतरे  मांकड का साथ दिया, जिन्होंने सीरीज में अपना दूसरा शतक जमाया. पांच घंटे बल्लेबाजी करते हुए मांकड ने 111 रन बनाए, जिसमें केवल छह बाउंड्रीज शामिल रहीं. मांकड को सैम लैक्सटन ने आउट किया. अतिथि टीम 331 रन ही बना पाई. हिंदुस्तान को फॉलोऑन मिला. दूसरी पारी में हिंदुस्तान केवल 67 रनों पर ही आउट हो गई  पारी तथा 177 रनों से मैच पराजय गई.

डॉन ब्रैडमैन 185 रन, (पहला टेस्ट ब्रिस्बेन) :
पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच ब्रिस्बेन में 28 नवंबर से चार दिसंबर के बीच खेला गया था. ब्रैडमैन ने शानदार 185 रन बनाए. वह रन बनाते चले गए  भारतीय गेंदबाज बल्लेबाजों की सहायता गार पिच पर परेशान होते रहे. उन्होंने अन्य बल्लेबाजों के साथ भी साझेदारी की  तब जब उन्हें साझेदारों का साथ नहीं मिल रहा था, उन्होंने तब भी गेंदबाजों को परेशान करना जारी रखा.

दूसरे दिन केवल एक घंटे का ही खेल खेला गया  बाकी का खेल बारिश के कारण नहीं हो पाया. ऑस्ट्रेलिया ने इस एक घंटे में एक विकेट खोकर 36 रन बनाए. तीसरे दिन भी बारिश हुई  ब्रैडमैन एक मैराथन पारी खेलने के बाद लाला अमरनाथ की गेंद पर हिट विकेट हो गए. ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी 382 रनों पर घोषित कर दी थी  फिर हिंदुस्तान को पहली पारी में 58 तथा दूसरी पारी में 97 रनों पर आउट कर पारी  226 रनों से मैच अपने नाम कर लिया था.

इस सीरीज पर ऑस्ट्रेलिया ने 4-0 से अतिक्रमण किया  पांच मैचों की छह पारियों में ब्रैडमैन ने 178.75 की औसत से 715 रन बनाए जो सीरीज में सबसे ज्यादा थे. सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में दूसरा नाम हजारे का था, जिन्होंने 10 पारियों में 47.67 के औसत से 429 रन बनाए.


अजीत अगरकर के नाम दर्ज हैं कई रिकॉर्ड

अजीत अगरकर के नाम दर्ज हैं कई रिकॉर्ड

क्रिकेट की दुनिया में जिन बेहतरीन ऑलराउंडरों ने फैंस का दिल जीता है, उनमें अजीत अगरकर का नाम विशेष तौर पर उल्लेखनीय है। अजीत अगरकर ने क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में भारत का प्रतिनिधित्व किया और दो सौ से ज्यादा मैच खेले। अपने क्रिकेट जीवन के दौरान उन्होंने कई रिकॉर्ड भी बनाए।

वे वनडे क्रिकेट मैच में भारत की ओर से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज हैं। मुंबई में 4 दिसंबर 1977 को जन्मे अजीत अगरकर ने आईपीएल में भी हिस्सा लिया था और दिल्ली डेयरडेविल्स और कोलकाता नाइटराइडर्स का प्रतिनिधित्व किया।

वनडे में तोड़ा था डेनिस लिली का वर्ल्ड रिकॉर्ड
अगरकर ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत में ही ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज डेनिस लिली का विश्व रिकॉर्ड तोड़ दिया था। उन्होंने 23 वनडे मैचों में ही सबसे तेज 50 विकेट लेकर लिली को पीछे छोड़ा था। अगरकर का यह रिकॉर्ड 1998 से 2009 तक उनके नाम रहा मगर इसके बाद श्रीलंका के स्पिनर अजंता मेंडिस ने उनका यह रिकॉर्ड तोड़ दिया था। मेंडिस ने 19 वनडे मैचों में 50 विकेट लेकर अगरकर को पीछे छोड़ा था।

21 गेंदों पर बना डाले थे 50 रन
अगरकर के नाम वनडे क्रिकेट में एक और रिकॉर्ड दर्ज है। अगरकर ने भारत की ओर से खेलते हुए 21 गेंदों पर 50 रन बनाकर रिकॉर्ड कायम किया था। अगरकर ने यह कमाल वर्ष 2000 में जिम्बाब्वे के खिलाफ दिखाया था। उस मैच में उन्होंने 3 विकेट भी हासिल किए थे।

इसके अलावा भारत की तरफ से सबसे कम वनडे मैचों में 1000 रन और 200 विकेट लेने का गौरव भी अगरकर को ही हासिल है। अगरकर ने 133 मैचों में यह कमाल दिखाया था और दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर शॉन पोलाक को पीछे छोड़ दिया था। पोलाक ने 138 वनडे मैच खेलकर यह उपलब्धि हासिल की थी मगर अगरकर ने उनसे कम मैचों में ही यह कमाल कर दिखाया था।

लॉट्स में दिखाया था यह कमाल
लॉर्ड्स के मैदान को क्रिकेट का मक्का कहा जाता है और और हर बल्लेबाज का सपना लार्ड्स में शतक जड़ने का होता है। अजीत अगरकर ने लार्ड्स के मैदान में अनोखा रिकॉर्ड कायम किया था।

उन्होंने नंबर आठ पर बैटिंग करते हुए टेस्ट क्रिकेट में शतक जड़कर हर किसी को हैरान कर दिया था। इसके अलावा अगरकर ने वनडे मैचों में सबसे ज्यादा बार एक पारी में 4 विकेट लिए हैं। उन्होंने 191 वनडे मैचों में 12 बार 4 विकेट लेने का कारनामा किया है।

अगरकर का क्रिकेट करियर
यदि अजीत अगरकर के क्रिकेट करियर को देखा जाए तो वनडे क्रिकेट में वे काफी प्रभावशाली खिलाड़ी थे। उन्होंने 191 वनडे मैचों में 288 विकेट लिए। 42 रन देकर छह विकेट वनडे में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा है।

इसके अलावा अगरकर ने टेस्ट मैचों और टी-20 मुकाबलों में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया। अगरकर ने 26 टेस्ट मैचों में 58 जबकि चार टी-20 मुकाबलों में तीन विकेट लिए। 26 टेस्ट मैच में उन्होंने 571 रन बनाए जिसमें एक शतक भी शामिल है। 151 वनडे मैचों की 113 पारियों में अगरकर ने 1269 रन बनाए जिसमें तीन अर्धशतक भी शामिल हैं। वनडे में उनका बेस्ट स्कोर 95 रन रहा है।

2013 में लिया था संन्यास
अगरकर की कप्तानी में मुंबई की क्रिकेट टीम ने वर्ष 2013 में 40वां रणजी ट्राफी खिताब जीता था। अगरकर ने वर्ष 1998 में टेस्ट और वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया था जबकि उन्होंने 2006 में टी-20 क्रिकेट में डेब्यू किया था। अगरकर ने 2013 में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने का एलान कर दिया था।

धर्म की दीवार तोड़कर की शादी
अजीत अगरकर की प्रेम कहानी भी काफी अलग रही है और उन्होंने धर्म की दीवार तोड़ते हुए फातिमा से शादी की है। अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत में ही अगरकर की मुलाकात फातिमा से हुई थी। दरअसल फातिमा अगरकर के करीबी दोस्त मजहर की बहन हैं। फातिमा भी कभी-कभी अपने भाई के साथ अगरकर का मैच देखने के लिए स्टेडियम जाया करती थी और इसी दौरान दोनों की मुलाकात हुई जो जल्द ही दोस्ती में बदल गई।


परिवार नहीं था शादी के लिए तैयार
बाद में अगरकर और फातिमा की दोस्ती कब प्यार में बदल गई, यह बात उन दोनों को भी पता नहीं चली। जल्द ही दोनों को अहसास हो गया है कि वह अब एक-दूसरे के बिना गुजारा नहीं कर सकते।

दोनों के परिवार वाले इस रिश्ते के लिए तैयार नहीं थे, लेकिन आखिरकार प्यार की ही जीत हुई और 9 फरवरी 2002 को दोनों ने शादी कर ली।

अब दोनों अपनी मौजूदा जिंदगी से काफी खुश हैं और दोनों का एक बेटा भी है जिसका नाम उन्होंने राज रखा है। टीम इंडिया के जब भी बेहतरीन ऑलराउंडरों की चर्चा होती है तो उनमें अजीत अगरकर का नाम काफी प्रमुखता से लिया जाता है।


PCB ने किया ऐलान! इस देश में खेला जाएगा एशिया कप 2021       अजीत अगरकर के नाम दर्ज हैं कई रिकॉर्ड       भारत की हुई जीत, ऑस्ट्रेलिया 11 रनों से हारा       इस नए नियम से भारत को मिली संजीवनी, जानिए इसके बारे में       टीम में न होने पर भी चहल बने हीरो, भारत को ऐसे जिताया पहला टी-20       NCB अफसरों पर एक्शन, ड्रग्स केस में भारती समेत इनसे जुड़े तार       कंगना से भिड़े दिलजीत, गुस्से में बोले पंजाबी सिंगर       नेहा-रोहनप्रीत का TV शो, शादी के बाद पहली बार दिखें साथ       किसानों के मुद्दे पर मीका सिंह ने कंगना को सुनाई खरी-खोटी       सैफ की चाहत, बेटे की इस एक्टर की तरह बॉलीवुड में हो धमाकेदार एंट्री       दिलजीत दोसांझ से पंगा लेना कंगना को पड़ा भारी       इस एक्ट्रेस ने पहनी ऐसी ड्रेस, सोशल मीडिया पर हुईं ट्रोल       जावेद जाफरी की ये बातें नहीं जानते होंगे आप       कंगना और दलजीत के फैंस में हुआ बड़ा जंग, ट्विटर पर किए ये कमेंट       इस एक्ट्रेस का सबसे बड़ा खुलासा, कहा...       बॉलीवुड के नेचुरल एक्टर, काजोल की नानी से था रिश्ता       फैशनेबल युग फैशन प्रीन्योर, चौंका दिया सबको       किसानों के प्रदर्शन पर धर्मेंद्र ने ट्वीट किया डिलीट, लोगों ने किया ट्रोल       किसानों पर बयान के बाद निशाने पर कंगना       ओम प्रकाश शर्मा ने कहा कि धांधली से चुनाव जीती BJP, 13 को करेंगे आंदोलन का ऐलान