केवल इतने विकेट की है जीत से हिंदुस्तान की दूरी, मुश्किल में साउथ अफ्रीका

केवल इतने विकेट की है जीत से हिंदुस्तान की दूरी, मुश्किल में साउथ अफ्रीका

भारतीय टीम के तेज गेंदबाजों ने साउथ अफ्रीका को उसी के घरेलू मैदान पर बैकफुट पर धकेल रखा है. कैप्टन डील एल्गर अकेले ही जंग लड़ रहे हैं. और जीत और हिंदुस्तान में दूरी है केवल छह विकेट की.

सुपरस्पोर्ट्स पार्क, सेंचुरियन में साउथ अफ्रीका जीत के लिए 305 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी. और चौथे दिन का खेल खत्म होने तक उसका स्कोर है चार विकेट पर 94 रन.

साउथ अफ्रीका के लिए वापसी मुश्किल है. विकेट बल्लेबाजी के लिए सरल नहीं. पिच पर असमान उछाल है. तो खास तौर पर कमाल की बोलिंग कर रहे हैं. उनकी लेंथ कमाल है और लाइन सटीक. इसके साथ ही मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज भी लेंथ का ठीक इस्तेमाल कर रहे हैं. दिन के आखिर में शार्दुल ठाकुर ने उछाल भरी गेंद ने एल्गर को थोड़ा परेशान किया लेकिन वह किसी तरह स्वयं को संभाल गए.

रोसी वेन डर डुसां धैर्य के साथ खेल रहे थे. उनका डिफेंस अच्छा था. लग रहा था कि वह कैप्टन का अच्छा साथ देंगे. लेकिन एक चूक और पारी का अंत. वह जसप्रीत बुमराह की एक गेंद को छोड़ने लगे. गेंद ऑफ स्टंप के बाहर लेंथ से कटकर अंदर आई. गेंद ऑफ स्टंप से जाकर लगी. वह 11 रन बनाकर पविलियन लौटे. नाइट वॉचमैन के रूप में केशव महाराज संभलकर खेल रहे थे. लेकिन बुमराह ने अंतिम ओवर में बोल्ड कर दिया. यह दिन की आखिरी गेंद भी साबित हुई. डीन एल्गर 52 रन बनाकर नाबाद रहे.

एल्गर बाकी बल्लेबाजों से अलग नजर आ रहे थे. जब तेज गेंदबाज लाइन में चूक करते तो एल्गर ने उनका पूरा लाभ उठाया. वह ड्राइव भी करते, फ्लिक भी करते. एक ऐसे ही शॉट पर उन्होंने अपनी हाफ सेंचुरी भी पूरी की.

पहली पारी में पांच विकेट लेने वाले शमी ने दूसरी पारी में भारतीय टीम के लिए खाता खोला. उनकी शुरुआती दो गेंदों पर एडिन मार्करम को मौके मिले. लेकिन आखिर में उन्होंने बोल्ड कर कामयाबी हासिल की.

कीगन पीटरसन ने एल्गर के साथ मिलकर साझेदारी तैयार करने की प्रयास की. उन्होंने शमी की गेंदों पर भी स्ट्रोक्स खेले. लेकिन मोहम्मद सिराज ने गेंदबाजी का दारोमदार संभालने के बाद इस पार्टनरशिप का अंत किया. उन्होंने कुछ इनस्विंग फेंककर बल्लेबाज को सेट किया और उसके बाद एक आउट स्विंग ने पीटरसन को आउट किया. गेंद ने पीटरसन के बल्ले का बाहरी किनारा लिया और ऋषभ पंत ने उसे दस्तानों में कैद कर लिया.

एल्गर को इसके बाद कुछ समय से लिए वेन डर डुसां का साथ मिला. दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिे 40 रन की साझेदारी हुई. दिन के अंत में बुमराह ने दो करीबी झटके देकर साउथ अफ्रीका की पारी को पटरी से उतार दिया.


बेहद सरलता से आउट हुए विराट कोहली रह गए दंग, देखें VIDEO

बेहद सरलता से आउट हुए विराट कोहली रह गए दंग, देखें VIDEO

सेंचुरियन2018 में भारतीय टीम साउथ अफ्रीका दौरे पर गई थी. जोहानिसबर्ग में टीम इंडिया को नेट प्रैक्टिस में बॉलिंग करने के लिए कुछ लोकल गेंदबाजों को बुलाया गया था. उसमें दो जुड़वा भाई थे. उनमें से एक 17 वर्षीय ने भारतीय इंटरनेशनल क्रिकेटरों को खूब परेशान किया था.

अब आप सोच रहे हैं हम यहां 2018 दौरे और नेट बॉलर की बात क्यों कर रहे हैं? तो बता दें कि उसी नेट बॉलर मार्को जेनसेन ने को सेंचुरियन टेस्ट की दूसरी पारी में 18 रनों पर आउट कर दिया.

बॉक्सिंग डे टेस्ट के चौथे दिन लंच के बाद पहले ही ओवर की पहली गेंद पर विराट कोहली अपना विकेट गंवा बैठे. डेब्यू स्टार मार्को की गेंद गुड लेंथ पर टप्पा खाने के बाद ऑफ स्टंप से बहुत ज्यादा बाहर निकल रही थी और कोहली बल्ला अड़ा बैठे. बाकी का कार्य विकेट के पीछे खड़े क्विंटन डि कॉक ने पूरा किया. बहुत सरलता से कोहली का सीधा कैच लपक लिया. कोहली आउट होने के बाद दंग दिखे. कुछ देर तक वहीं खड़े रह गए.

विराट कोहली के लिए पिछले दो साल संघर्ष वाले रहे हैं. उन्होंने अपना अंतिम शतक बांग्लादेश के विरूद्ध 2019 में लगाया था. उसके बाद से वह कोई बड़ी पारी नहीं खेल सके. सेंचुरियन टेस्ट की बात करेंगे तो यहा वह पहली पारी में भी ऐसे ही हाउट हुए थे.

2021 की बात करें तो कोहली ने 11 टेस्ट में महज 28.21 की औसत से 536 रन बनाए. इस दौरान उनके नाम 4 अर्धशतक रहे, जबकि बेस्ट स्कोर 72 रहा. बेकार फॉर्म की वजह से ही उन्हें टी-20 टीम की कप्तानी छोड़नी पड़ी, जबकि बाद में बीसीसीआई ने वनडे की कप्तानी से भी हटाने का निर्णय किया.


गौरतलब है कि हिंदुस्तान ने अपनी दूसरी पारी में 174 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका के सामने 305 रन का लक्ष्य रखा. हिंदुस्तान ने पहली पारी में 327 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका को 197 रन पर आउट करके 130 रन की बढ़त हासिल की थी. हिंदुस्तान की तरफ से दूसरी पारी में ऋषभ पंत ने सर्वाधिक 34 रन बनाए. दक्षिण अफ्रीका के लिए कागिसो रबाडा और मार्को जेनसेन ने चार-चार जबकि लुंगी एनगिडी ने दो विकेट लिए.