भारतीय बल्लेबाज को शतक ठोकने के लिए मिलते हैं इतने लाख रुपये

भारतीय बल्लेबाज को शतक ठोकने के लिए मिलते हैं इतने लाख रुपये

इस बात से हर कोई वाकिफ है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ अपने पुरुष खिलाड़ियों पर जमकर धन लुटाती है। एक-एक खिलाड़ी को सालाना करार के तौर पर 7-7 करोड़ रुपये तक तो मिलते ही हैं, साथ ही साथ मैच फीस और अन्य बोनस अलग से खिलाड़ी को मिलता है। अगर कोई बल्लेबाज शतक जड़ता है या दोहरा शतक ठोकता है या फिर कोई गेंदबाज पांच विकेट चटकाता है तो उसे अतिरिक्त पैसा बीसीसीआइ से मिलता है।

जी हां, भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने काफी समय से बोनस स्कीम शुरू की हुई है। पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा के मुताबिक, अगर कोई बल्लेबाज शतकीय पारी खेलता है तो उसे बोनस के तौर पर पांच लाख रुपये मिलते हैं। वहीं, अगर कोई बल्लेबाज दोहरा शतक जड़ता है तो उस खिलाड़ी को 7 लाख रुपया का बोनस मिलता है। गेंदबाजों के लिए भी बीसीसीआइ की बोनस स्कीम है। इसके तहत अगर कोई गेंदबाज पारी में 5 विकेट चटकाता है तो उसे भी 5 लाख रुपये बोनस के रूप में मिलते हैं।

सालाना करार के तौर पर ए प्लस कैटेगरी वाले खिलाड़ियों को सात करोड़ रुपये मिलते हैं, जबकि ए कैटेगरी में शामिल खिलाड़ियों को सालाना 5 करोड़ रुपये मिलते हैं। वहीं, बी कैटेगरी वाले खिलाड़ियों को 3 करोड़ रुपये बीसीसीआइ की ओर से एक क्रिकेट कैलेंडर ईयर के लिए मिलते हैं। सबसे आखिर में आने वाली सी कैटेगरी में शामिल खिलाड़ियों को एक करोड़ रुपये सालाना मिलते हैं।

आपको ये जानकर भी हैरानी होगी कि एक टेस्ट मैच के लिए एक खिलाड़ी को, जो प्लेइंग इलेवन में शामिल होता है, उसे 15 लाख रुपये मैच फीस के रूप मिलते हैं। एकदिवसीय क्रिकेट में ये रकम कम हो जाती है, लेकिन फिर भी एक वनडे मैच के लिए खिलाड़ी को 6 लाख रुपये मैच फीस मिलती है। टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट के एक मैच के लिए एक खिलाड़ी को बीसीसीआइ की तरफ से 3 लाख रुपये मिलते हैं। इसके अलावा दैनिक भत्ता भी मिलता है।

भारतीय टीम कोई बड़ा इवेंट (आइसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप, टी20 वर्ल्ड कप, एशिया कप, बड़ी टेस्ट सीरीज, चैंपियंस ट्रॉफी) जीतती है तो फिर इनामी राशि और बढ़ जाती है। साल 2007 में जब टी20 वर्ल्ड कप में युवराज सिंह ने 6 छक्के एक ओवर में जड़े थे तो उस दौरान बीसीसीआइ ने उन्हें एक करोड़ रुपये का रिवॉर्ड अलग से दिया था। 


17 साल की भारतीय बल्लेबाज ने वो कर दिखाया, जो महिला टेस्ट क्रिकेट में अब तक नहीं हुआ

17 साल की भारतीय बल्लेबाज ने वो कर दिखाया, जो महिला टेस्ट क्रिकेट में अब तक नहीं हुआ

 लंबे समय के बाद भारतीय महिला क्रिकेट टीम को टेस्ट क्रिकेट खेलने का मौका मिला है। इंग्लैंड के खिलाफ ब्रिस्टल में खेले जा रहे इस टेस्ट मैच में भले ही भारतीय टीम की हालत सही नहीं है, लेकिन एक 17 साल की खिलाड़ी ने वो कर दिखाया है, जो महिला टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में आज तक नहीं हुआ। इतना ही नहीं, 17 साल की ये खिलाड़ी अपना पहला ही टेस्ट मैच खेल रही थी।

दरअसल, हम बात कर रहे हैं लेडी सहवाग के नाम से फेमस हो चुकीं शेफाली वर्मा की, जिन्होंने एक टेस्ट मैच में सबसे ज्यादा छक्के जड़ने का रिकॉर्ड बनाया है। हालांकि, उन्होंने कोई छक्कों की झड़ी नहीं लगाई है, लेकिन उन्होंने दोनों पारियों में मिलाकर तीन छक्के जड़े, जो कि महिला टेस्ट क्रिकेट में एक विश्व रिकॉर्ड है। एक मैच में अभी तक सिर्फ 1 या 2 छक्के ही खिलाड़ी जड़ पाते थे, लेकिन शेफाली वर्मा ने एक ही मैच में तीन छक्के जड़कर रिकॉर्ड बनाया है।


दाएं हाथ की बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने इंग्लैंड के खिलाफ पहली पारी में 2 छक्के जड़े, जबकि दूसरी पारी में उन्होंने एक छक्का जड़ा। पहली पारी में उन्होंने 96 रन बनाए थे, जबकि दूसरी पारी में उन्होंने 63 रन बनाए। हैरान करने वाली बात ये रही कि इनमें से 50 रन उन्होंने चौके-छक्कों से बटोरे। शेफाली ने मेजबान टीम के खिलाफ 11 चौके और एक छक्का जड़ा। वहीं, पहली पारी में उन्होंने 13 चौके और 2 छक्के जड़े थे।

बात अगर इस मुकाबले की करें तो मेजबान इंग्लिश टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 121.2 ओवर में 9 विकेट खोकर 396 रन बनाए। इसके जवाब में भारतीय टीम अपनी पहली पारी में 231 रन बनाकर ढेर हो गई। ऐसे में भारतीय टीम को फॉलोऑन खेलना पड़ा और दूसरी पारी में भी भारतीय टीम ने खबर लिखे जाने तक 35 ओवर में 2 विकेट खोकर 112 रन बना लिए हैं। भारत अभी भी 53 रनों से पिछड़ा हुआ है और मैच का चौथा दिन है।


IIT Kanpur बना रहा यूपी और दिल्ली में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर रोकने का प्लान       गंगा दशहरा पर बिठूर के घाटों में आस्था की डुबकी, स्नान-ध्यान और किया दान       सब्जी विक्रेता की मौत पर भीड़ ने शिवराजपुर थाना घेरा, बवाल की आशंका पर फोर्स तैनात       औसत से तीन गुना अधिक बरसा पानी, अभी पांच द‍िन तक रुक-रुककर होती रहेगी बार‍िश       ऐसे तो फिर डूबेगा गोरखपुर, रेनकट भरे गए न बंधों की हुई मरम्मत- अभी से जवाब देने लगे बंधे       गेट से लौटाए जा रहे भर्ती होने आने वाले मरीज, छह द‍िन में केवल चार मरीज हुआ भर्ती       रिकार्ड स्तर पर पहुंचा चिकन का भाव, दो माह में दो गुना हुआ मूल्य       कल से गुलजार होेंगे मॉल एवं रेस्टोरेंट, इस बार मेन्यू में होंगे यह खास डिश       गेहूं का ऐसा बीज जिसे खाद की जरूरत नहीं, उत्पादन में भी 15 से 35 फीसद तक की बढ़ोतरी       अब बरसात में भी लीजिए वन्य जीव विहार में रुकने का मजा, जान‍िए क्‍या है यूपी वन न‍िगम की तैयारी       CM योगी का एलान, जिले में एक हफ्ते तक नहीं मिला कोरोना संक्रम‍ित तो करेंगे पुरस्कृत       लखनऊ का ठग अब दुबई से चला रहा जालसाजी का नेटवर्क       पश्‍च‍िमी उत्तर प्रदेश में रोहि‍ंग्या के मददगारों के भी मिले सुराग, एटीएस ने तेज की छानबीन       लखनऊ में स्‍कूल का अवैध न‍िर्माण प्रशासन ने ढहाया, अराजकता से परेशान थे कालाकाकर कॉलोनी न‍िवासी       यूपी में एक ही रंग की होंगी शहर के मुख्य मार्गों की इमारतें, सीएम योगी ने प्रस्ताव को दी मंजूरी       पिता के सपने को बनाया अपनी जिंदगी का लक्ष्य, आगरा की बेटी ने थल सेना में अफसर बन दी सच्‍ची श्रद्धांजलि       18 साल बाद प्रेसीडेंशियल ट्रेन से यात्रा करेंगे राष्ट्रपति, जानिए-स्पेशल ट्रेन की खास बातें       गजब, बरेली में एक शख्स को अपने पालतू कुत्ते से इतना प्यार कि उसका ध्यान रखने के लिए छोड़ दी शराब       UP में दो से अधिक बच्चे वालों की सुविधाओं में होगी कटौती, सरकारी योजनाओं के लाभ से किया जा सकता है वंचित       MLC एके शर्मा को लेकर सभी अटकलें समाप्त, यूपी भाजपा के 18 प्रदेश उपाध्यक्ष में शामिल