Sarkari Naukri: इन विभागों में निकली बंपर नौकरियां, ऐसे करें आवेदन

Sarkari Naukri: इन विभागों में निकली बंपर नौकरियां, ऐसे करें आवेदन

इस समय कई विभागों में बंपर नौकरियां निकली हैं, जिनके लिए आवेदन की जारी है. इनके लिए योग्य और इच्छुक उम्मीदवार इन भर्तियों के लिए आवेदन कर सकते हैं.

देश के सर्वोत्तम संस्थानों में यदि जॉब करने का मौका मिले तो कौन छोड़ना या चूकना चाहेगा और यदि फिर वह संस्थान भी सरकारी और जॉब भी सरकारी तो फिर यह तो सोने पे सुहागा मौका है. 

यूकेएसएसएससी यानी उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की जूनियर इंजीनियर भर्ती के अनुसार 76 पदों पर नियुक्ति दी जाएगी.  इस भर्ती के लिए 18/21 से लेकर 42 साल आयु वर्ग के उम्मीदवार आवेदन के पात्र हैं. आवेदन प्रक्रिया पूरी तरह से निःशुल्क है.
Sarkari Naukri: उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की भर्ती शुरू
उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग यानी यूकेएसएसएससी की भर्ती प्रारम्भ हो गई है. यूकेएसएसएससी की ओर से प्रदेश के विभिन्न महकमों में जूनियर इंजीनियर ट्रेनी के पदों पर भर्ती की जा रही है.
बीएसएफ में मिलेगी एक लाख से तीन लाख तक की सैलरी">Sarkari Naukri : बीएसएफ में मिलेगी एक लाख से तीन लाख तक की सैलरी
बीएसएफ भर्ती 2021 के लिए इच्छुक और पात्र उम्मीदवार 31 दिसंबर, 2021 तक निर्धारित प्रारूप में आवेदन भेजकर बीएसएफ (BSF) भर्ती 2021 के लिए आवेदन कर सकते हैं. उपरोक्त पदों के लिए वेतनमान 1.20 लाख से लेकर 3.50 लाख रुपये प्रतिमाह तक है. अधिक जानकारी के लिए बीएसएफ की आधिकारिक वेबसाइट https://bsf.gov.in/ पर अधिसूचना एडवरटाईजमेंट संख्या 1/04/2020(Vol-II)-Pers/BSF/4055 को पढ़ सकते हैं.
Sarkari Naukri-Result 2021 Live: यूकेएसएसएससी और एसएससी में बंपर भर्तियां, आवेदन की फीस भी नहीं लगेगी
सरकारी जॉब : बीएसएफ की एयर विंग में बंपर भर्ती
बीएसएफ (बीएसएफ) ने ग्रुप ए, बी और सी के पदों पर आवेदन आमंत्रित किए हैं. इनमें कैप्टन / पायलट (DIG), कमांडेंट (पायलट), डिप्टी चीफ इंजीनियर, सीनियर एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस इंजीनियर, जूनियर एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस इंजीनियर, इक्विपमेंट ऑफिसर, इंस्पेक्टर और गनर आदि पदों पर रिक्तियां हैं.


दिल्ली: एम्स के निदेशक डाक्टर ने कहा- 'ओमिक्रॉन एक हलका संक्रमण' बताएं बचाव के उपाय

दिल्ली: एम्स के निदेशक डाक्टर ने कहा- 'ओमिक्रॉन एक हलका संक्रमण' बताएं बचाव के उपाय

ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों को देखते हुए एम्स के निदेशक डाक्टर रणदीप गुलेरिया ने जन-सामान्य को अनावश्यक डर और जमाखोरी जैसी गतिविधियों से बचने की सलाह दी है. डाक्टर गुलेरिया ने एक वीडियो संदेश में ओमिक्रॉन को लेकर स्थिति भी स्पष्ट की है.  

वर्तमान आंकड़ों के अनुसार, ओमिक्रॉन एक हलका संक्रमण है. इसमें ऑक्सीजन की जरूरत इतनी अधिक नहीं हो सकती. मैं सभी से ऑक्सीजन सिलेंडर और दवाओं की जमाखोरी से बचने का निवेदन करूंगा. हम एक देश के रूप में इन मामलों में किसी भी उछाल की स्थिति का सामना करने के लिए बेहतर ढंग से तैयार हैं.

एक वीडियो संदेश में डाक्टर गुलेरिया ने बोला कि हम पर्सनल प्रतिरक्षा के दृष्टिकोण से भी तैयार हैं. हममें से बड़ी संख्या में लोगों को या तो टीकाकरण के कारण या प्राकृतिक संक्रमण के कारण प्रतिरक्षा मिली है. घबराएं नहीं, बस सावधान रहें. 

गुलेरिया के अतिरिक्त फोर्टिस, फरीदाबाद के डाक्टर रवि शेखर झा का बोलना है कि पिछले कुछ दिनों से ओमाइक्रोन के मामलों में उछाल आया है. इसकी इंफेक्शन रेट डेल्टा वेरिएंट से अधिक है. अभी तक इसके लक्षण ज्यादातर हल्के ही होते हैं. इसके लिए किसी विशिष्ट एंटीवायरल, स्टेरॉयड की जरूरत नहीं होती.