संजय राउत का बीजेपी पर हमला, कहा- 'महा विकास अघाड़ी सरकार को 170 विधायकों का समर्थन प्राप्त'

संजय राउत का बीजेपी पर हमला, कहा- 'महा विकास अघाड़ी सरकार को 170 विधायकों का समर्थन प्राप्त'

महाराष्ट्र की पॉलिटिक्स के लिए इस वर्ष का अंतिम महीना दिसंबर बहुत ज्यादा हंगामेदार रहा, विधानसभा में आदित्य ठाकरे को चिढ़ाने से लेकर गवर्नर पर प्रश्न खड़ा करने तक. वहीं अब शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने बुधवार को बीजेपी नेता और प्रदेश के पूर्व मंत्री सुधीर मुनगंटीवार पर उनके महा विकास अघाड़ी सरकार को बर्खास्त करने की मांग को लेकर पत्र लिखने पर निशाना साधा है.

केंद्रीय मंत्री पर भी साधा निशाना
संजय राउत ने  मीडिया से बात करते हुए बोला कि  महा विकास अघाड़ी सरकार को 170 विधायकों का समर्थन प्राप्त है और वह पूरी तरह से स्थिर और सुरक्षित है. साथ ही उन्होंने बीजेपी विधायक नितेश राणे और केंद्रीय मंत्री नारायण राणे के विरूद्ध चल रहे मर्डर के मुद्दे को लेकर भी निशाना साधा. उन्होंने बोला कि यदि पुलिस किसी मुद्दे की जाँच कर रही है तो संबंधित केंद्रीय मंत्री का यह कर्तव्य है कि वह इसमें सहायता करें.

सरकार नहीं कर रही गवर्नर का अपमान
शिवसेना प्रवक्त राउत ने विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव गवर्नर का खलल और प्रदेश सरकार के बीच संबंधों और विधान परिषद में अनुशंसित नामों को स्वीकार करने में देरी पर बोलते हुए बोला कि न तो सीएम और न ही सरकार में कोई और गवर्नर का अपमान करने की प्रयास कर रहा है.

कांग्रेस की मांग कोश्यारी वापस बुला ले केन्द्र सरकार
कांग्रेस पार्टी ने बुधवार को केन्द्र सरकार से महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी को प्रदेश में महा विकास अघाड़ी सरकार के कामकाज में बाधा डालने का आरोप लगाते हुए वापस बुलाने की मांग की. महाराष्ट्र कांग्रेस पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष नसीम खान ने बोला कि कोश्यारी संवैधानिक पद पर रहते हुए भी एक सियासी दल के नेता की तरह व्यवहार कर रहे हैं.

राज्यपाल पर कार्य में बाधा डालने का आरोप
उन्होंने बोला कि राजभवन के माध्यम से एमवीए सरकार के कामकाज में रुकावटें लाई जा रही हैं. गवर्नर को वापस बुलाया जाना चाहिए. उन्होंने बोला कि गवर्नर ने मंगलवार को खत्म हुए शीतकालीन सत्र के दौरान विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव में जानबूझकर बाधा डाली थी.


दिल्ली: एम्स के निदेशक डाक्टर ने कहा- 'ओमिक्रॉन एक हलका संक्रमण' बताएं बचाव के उपाय

दिल्ली: एम्स के निदेशक डाक्टर ने कहा- 'ओमिक्रॉन एक हलका संक्रमण' बताएं बचाव के उपाय

ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों को देखते हुए एम्स के निदेशक डाक्टर रणदीप गुलेरिया ने जन-सामान्य को अनावश्यक डर और जमाखोरी जैसी गतिविधियों से बचने की सलाह दी है. डाक्टर गुलेरिया ने एक वीडियो संदेश में ओमिक्रॉन को लेकर स्थिति भी स्पष्ट की है.  

वर्तमान आंकड़ों के अनुसार, ओमिक्रॉन एक हलका संक्रमण है. इसमें ऑक्सीजन की जरूरत इतनी अधिक नहीं हो सकती. मैं सभी से ऑक्सीजन सिलेंडर और दवाओं की जमाखोरी से बचने का निवेदन करूंगा. हम एक देश के रूप में इन मामलों में किसी भी उछाल की स्थिति का सामना करने के लिए बेहतर ढंग से तैयार हैं.

एक वीडियो संदेश में डाक्टर गुलेरिया ने बोला कि हम पर्सनल प्रतिरक्षा के दृष्टिकोण से भी तैयार हैं. हममें से बड़ी संख्या में लोगों को या तो टीकाकरण के कारण या प्राकृतिक संक्रमण के कारण प्रतिरक्षा मिली है. घबराएं नहीं, बस सावधान रहें. 

गुलेरिया के अतिरिक्त फोर्टिस, फरीदाबाद के डाक्टर रवि शेखर झा का बोलना है कि पिछले कुछ दिनों से ओमाइक्रोन के मामलों में उछाल आया है. इसकी इंफेक्शन रेट डेल्टा वेरिएंट से अधिक है. अभी तक इसके लक्षण ज्यादातर हल्के ही होते हैं. इसके लिए किसी विशिष्ट एंटीवायरल, स्टेरॉयड की जरूरत नहीं होती.