अवैध खनन मामले में भोआ से कांग्रेस के पूर्व विधायक गिरफ्तार

अवैध खनन मामले में भोआ से कांग्रेस के पूर्व विधायक गिरफ्तार

चंडीगढ़ पंजाब पुलिस ने गैर कानूनी खनन मुद्दे में भोआ से कांग्रेस पार्टी के पूर्व विधायक जोगिंदर पाल को अरैस्ट कर लिया गया है गिरफ्तारी की पुष्टि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अरुण सैनी ने की है मुद्दे में तारागढ़ थाने में खान एवं खनिज अधिनियम की धारा 21 के अनुसार प्राथमिकी दर्ज की गयी हैउन्हें आज न्यायालय में पेश किया जाएगा इसी बीच मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बोला है कि कांग्रेस पार्टी के और तीन-चार पूर्व मंत्रियों के भी करप्शन में संलिप्त होने की संभावना है लेकिन बिना सबूतों के उनके विरूद्ध कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी पाल 2017 से 2022 तक भोआ (आरक्षित) विधायक रहे थे और हाल के विधानसभा चुनाव में उन्हें कृषि मंत्री लाल चंद कटारुचक ने 1,200 मतों से हराया हैपुलिस ने एक कम्पलेन के बाद खनन किरियां गांव में कृष्णा क्रशर पर छापा मारा था पुलिस ने तीन ट्रक खनन सामग्री, एक क्रेन और एक ट्रैक्टर-ट्रेलर बरामद किया था

प्राथमिकी को उस छापे का नतीजा बताया जा रहा है क्योंकि पाल का परिवार कृष्णा क्रशर यूनिट में भागीदार है पंजाब में विधानसभा चुनाव बुरी तरह हारने के बाद राज्य कांग्रेस पार्टी की हालत बहुत ही अधिक खराब हो गई है वर्तमान में कांग्रेस पार्टी के चार पूर्व मंत्री स्टेट विजिलेंस की रडार पर हैं, जबकि एक पूर्व मंत्री कारागार में हैं जो रोड रेज मुद्दे में मर्डर का दोषी होने की सजा काट रहे हैं कांग्रेस पार्टी के चार पूर्व मंत्री ऐसे हैं जो हाल ही में कांग्रेस पार्टी को छोड़कर बीजेपी का चोला पहने चुके हैं जबकि पंजाब कांग्रेस पार्टी के एक पूर्व अध्यक्ष ने काफी पहले 50 वर्ष बाद कांग्रेस पार्टी का दामन छोड़ बीजेपी की नाव पकड़ ली थी इन सभी घटनाक्रमों को कांग्रेस पार्टी की ऐसी हालत ऐसे समय में हुई है जब पंजाब में संगरूर के लोकसभा उपचुनाव के लिए 23 जून को है

पूर्व मंत्रियों के विरूद्ध हो रही है जांच
कांग्रेस की कैप्टन  सरकार के कार्यकाल में वन मंत्री रहे साधू सिंह धर्मसोत करप्शन के आरोप में न्यायिक हिरासत के अनुसार कारागार में बंद हैं पूर्व मंत्री संगत सिंह  खिलाफ भी  भ्रष्टाचार के मुद्दे में एफआई दर्ज है और मुद्दे की जांच चल रही है इसके बाद विजिलेंस ठेकदारों की कम्पलेन पर खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में हुए 2000 करोड़ रुपए के टेंडरों के कथित घोटाले में पूर्व मंत्री हिंदुस्तान भूषण आशु की किरदार की भी जांच कर रही है  पूर्व कांग्रेस पार्टी मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा भी भी सरकारी भूमि  बेचने के मुद्दे में जांच के दायरे में हैं इसके अतिरिक्त मान ने अब दोबारा तीन से चार मंत्रियों के विरूद्ध कार्रवाई की बात कर कांग्रेस पार्टी को कठिनाई में डाल दिया है