भारत को जल्द मिलेगी तीसरी वैक्सीन, तैयार होगी 10 करोड़ खुराक

भारत को जल्द मिलेगी तीसरी वैक्सीन, तैयार होगी 10 करोड़ खुराक

नई दिल्ली: भारत को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की ‘कोविशील्ड’ और भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सिन’ के रूप में दो वैक्सीनें मिल चुकी है। अब रूसी ‘स्पुतनिक-5’ के रूप में एक और वैक्सीन मिलने की संभावनाएं बढ़ गई है। रूसी वैक्सीन का भारत में ट्रायल हैदराबाद की डॉ रेड्डीज लेबोरेटरीज लिमिटेड कर रही है। इस कंपनी ने इसके दूसरे चरण का क्लिनिकल ट्रायल पूरा कर लिया है और अब ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से तीसरे चरण के ट्रायल की इजाजत मांगी गयी है।

अगस्त में ही लांच हो गयी थी स्पुतनिक 5
स्पुतनिक-5 को रूस के गामालेया रिसर्च इंस्टीट्यूट द्वारा डेवलप किया गया है और इसे रूस ने दुनिया की सबसे पहली कोरोना वैक्सीन के रूप में पेश किया था। लेकिन चूँकि इसके सभी आवश्यक ट्रायल नहीं हुए थे सो इस पर दुनिया का भरोसा नहीं जम पाया। सवाल उठने पर रूस ने अपनी वैक्सीन के व्यापक ह्यूमन ट्रायल शुरू किये थे। स्पूतनिक-5 का पहला क्लिनिक ट्रायल 18 जून को शुरू हुआ था। इसमें 38 लोगों को डोज दी गई थी। 20 जुलाई को आए ट्रायल के नतीजों में इसमे हिस्सा लेने वाले सभी लोगों में कोरोना वायरस के खिलाफ इम्युनिटी देखने को मिली थी। इसके बाद रूस ने अगस्त में वैक्सीन लॉन्च करने का ऐलान किया था।

भारत में दिसंबर में शुरू हुआ था ट्रायल
रूसी डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फण्ड ने इस वैक्सीन के भारत में ट्रायल और वितरण के लिए सितंबर में हैदराबाद की डॉ रेड्डीज लैबोरेट्रीज से करार किया था। कंपनी ने अनुमति मिलने के बाद 2 दिसंबर को इसका दूसरे चरण का ट्रायल शुरू किया था। इसमें 100 लोगों को वैक्सीन की खुराक देकर उसकी सुरक्षा की जांच की गई थी। इसके बाद अब कंपनी तीसरे चरण के ट्रायल में 1,400 वॉलेंटियरों को इसकी खुराक देगी।

भारत में 10 करोड़ खुराक तैयार करने का लक्ष्य
डॉ. रेड्डीज लेबोरेटरीज ने कहा है कि दूसरे चरण का ट्रायल पूरा हो गया है। इसमें किसी भी प्रकार की सुरक्षा चिंताएं सामने नहीं आई हैं। ट्रायल के सुरक्षा डेटा को मंजूरी के लिए ड्रग कंट्रोलर के समक्ष प्रस्तुत किया गया है और तीसरे चरण के क्लिनिकल ट्रायल की अनुमति भी मांगी गई है। मंजूरी मिलते ही ट्रायल शुरू कर दिया जाएगा।

डॉ रेड्डीज लेबोरेटरीज के एमडी जीवी प्रसाद ने कहा है कि इस वैक्सीन को अब तक रूस के करीब 10 लाख लोग और अर्जेंटीना में तीन लाख से अधिक लोगों को दिया जा चुका है। कंपनी ने भारत में 10 करोड़ खुराक तैयार करने का लक्ष्य रखा है। वैक्सीन का भारत के अलावा यूएई, मिस्र, वेनेजुएला और बेलारूस में क्लिनिकल ट्रायल चल रहा है।

92 फीसदी असरदार
रूसी कंपनी ने दावा किया है कि ये वैक्सीन वॉलेंटियरों को पहली खुराक दिए जाने के 28 दिन बाद 91.4 प्रतिशत प्रभावी मिली थी, लेकिन पहली खुराक के 42 दिन बार के विश्लेषण में यह 95 प्रतिशत तक प्रभावी मिली है। ये भी दावा किया गया है कि गंभीर मामलों में यह 100 प्रतिशत तक प्रभावी साबित हुई है।


बाल-बाल बचे कांग्रेस अध्यक्ष, भयानक हमले में कार हुई चकनाचूर

बाल-बाल बचे कांग्रेस अध्यक्ष, भयानक हमले में कार हुई चकनाचूर

त्रिपुरा के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पिजुश कांति बिश्वास पर रविवार को हमला हुआ है। आज सिपाहीजाला जिले बिश्वास की कार पर ज्ञात लोगों ने हमला कर दिया, जिसमें बिश्वास को भी चोटें आई हैं, साथ ही उनकी कार क्षतिग्रस्त हो गई। कांग्रेस अध्यक्ष पर हुए इस हमले के बाद पार्टी में हड़कंप मच गया। वहीं हमले का आरोप भाजपा कार्यकर्ताओं पर लगा है।

त्रिपुरा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बिश्वास पर हमला
त्रिपुरा के सिपाहीजाला जिले में बिसलघर इलाके में उस समय हड़कंप मच गया जब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पिजुश कांति बिश्वास की गाड़ी पर हमला कर दिया गया। बिस्वास त्रिपुरा से 20 किलोमीटर दूर बिशालगढ़ पार्टी के एक कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। इस दौरान ऊपर हमला कर दिया गया। कार की विंडशील्ड क्षतिग्रस्त होकर चकनाचूर हो गई। वहीं शीशे के टुकड़े कार की आगे की सीट पर भी फैल गए।

कांग्रेस अध्यक्ष बिश्वास घायल, कार क्षतिग्रस्त
खुद बिश्वास को मामूली चोटे सिर और अन्य शरीर के अंगों पर आई। वहीं उनके काफिले के साथ शामिल कई कांग्रेस कार्यकर्ता भी घायल हो गए। बताया जा रहा है कि हमले में कांग्रेस अध्यक्ष को बचाने में जुटें कई पुलिसकर्मी भी चोटिल हो गए।

भाजपा कार्यकर्ताओं पर लगा कांग्रेस अध्यक्ष पर हमले का आरोप
घटना के बाद कांग्रेस अध्यक्ष समेत घायल कार्यकर्ताओं को इलाज के लिए एक स्थानीय अस्पताल ले जाया गया। वहीं बीजेपी कार्यकर्ताओं पर इस हमला का आरोप लगा है। फिलहाल बिश्वास ने हमले को लेकर पुलिस में एक एफआईआर दर्ज करा दी है। पुलिस भी मामले की जांच में जुट गई है। हालांकि हमले के राजनीतिक उद्देश्य को लेकर अभी तक पुलिस कुछ नहीं कह रही।


झारखंड सरकार का सिर दर्द बने पारा शिक्षक       अब fastag को whatsapp से करें ऑर्डर, जानें       बाल-बाल बचे कांग्रेस अध्यक्ष, भयानक हमले में कार हुई चकनाचूर       रसोई गैस सिलिंडर की बुकिंग पर बंपर कैशबैक ऑफर       अब बंगाल में कांटे की लड़ाई, ममता-मोदी की जंग में कूदी शिवसेना       Vaccination Target से चूका भारत, रह गया लक्ष्य अधूरा       लालू से मिलीं बेटी चंदा, पिता से लिपटकर फूट-फूट कर रोईं       बर्फबारी के साथ भूकंप के झटके, सबकी हालत हुई खराब       बीच रास्ते जली बस, करंट की चपेट में आकर लगी आग       इन राज्यों में पड़ेगी भीषण ठंड, यहां 3 दिन होगी भारी बारिश       भारत का पहला इको फ्रेंडली गोबर पेंट लॉन्च       UP में फिर चली तबादला एक्सप्रेस, 15 IAS अधिकारियों का ट्रांसफर       कोरोना वैक्सीनेशन पर रोक, पहले चरण के बाद सरकार का बड़ा फैसला       100 रुपए में व्यवसाय खड़ा,इलावरासी की ऐसी कहानी       तेजी से फैला बर्ड फ्लू: मारे जाएंगे 9 जिलों में पक्षी       13 साल की बच्ची के साथ 9 लोगों ने 3 दिन किया रेप       पीएम मोदी ने 8 लग्जरी ट्रेनों को दिखाई हरी झंड़ी, Statue Of Unity जुड़ा रेल नेटवर्क से       चीन ने यहां चुपके से बना दी कई KM लंबी नई सड़क       राज्य की सभी सीटों पर रथयात्राएं निकालेगी पार्टी, ममता के खिलाफ BJP का मेगा प्लान       गिरफ्तार चीनी नागरिक, चला रहे करोड़ों का फर्जी कारोबार