पाकिस्‍तानी क्रिकेट टीम की हार पर ट्रोल हुए गृहमंत्री शेख रशीद, लोग बोले- क्‍या यह इस्‍लाम की 'हार' है ?

पाकिस्‍तानी क्रिकेट टीम की हार पर ट्रोल हुए गृहमंत्री शेख रशीद, लोग बोले- क्‍या यह इस्‍लाम की 'हार' है ?

इस्‍लामाबाद
क्रिकेट के महाकुंभ टी-20 विश्‍व कप मुकाबले में पाकिस्‍तानी क्रिकेट टीम की करारी शिकस्‍त के बाद पाकिस्‍तान के बड़बोले गृहमंत्री शेख रशीद लोगों के निशाने पर आ गए हैं. यह वही शेख रशीद हैं जिन्‍होंने भारतीय टीम की हार को इस्‍लाम की जीत करार दिया था. अब पाकिस्‍तानी टीम की हार के बाद लोग उनसे प्रश्न कर रहे हैं कि क्‍या यह इस्‍लाम की हार है. अब तक हजारों की तादाद में लोग जहां शेख रशीद के विरूद्ध ट्वीट कर रहे हैं, वहीं पाकिस्‍तानी गृहमंत्री चुप्‍पी मारकर बैठे हैं.

शेख रशीद की तस्‍वीर पोस्‍ट करके पीर फैसल लिखते हैं, 'इस्‍लाम की हार हुई. क्‍या ईसाइयों की जीत हुई?' राजू वर्मा लिखते हैं, 'शेख रशीद जी क्‍या यह इस्‍लाम की हार है? जैसा कर्म करोगो, वैसा फल मिलेगा.' अभिषेक चौहान लिखते हैं, 'शेख रशीद जी आज कौन जीता? इस्‍लाम ? कृपया अगली बार धर्म को क्रिकेट से दूर रखना. अब अगले वर्ष आप लोगों से मुलाकात होगी.



पाकिस्‍तान की हार पर शेख रशीद की बोलती बंद
पाकिस्‍तान की हार के बाद शेख रशीद की बोलती बंद हो गई है और हार की कसक साफ दिखी. पाकिस्‍तानी गृहमंत्री ने ट्वीट करके बोला कि पाकिस्‍तान आपने अच्‍छा खेला. सेमीफाइनल को छोड़कर आपने पूरे टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन किया. फिर भी कोई बात नहीं. पाकिस्‍तान की 22 करोड़ जनता के चेहरे पर खुशी लाने और बहुत बढ़िया कोशिश के लिए धन्‍यवाद.

इससे पहले हिंदुस्तान के विरूद्ध मिली जीत के बाद पाक के गृह मंत्री शेख रशीद ने धर्म को लेकर बयानबाजी की थी. उन्होंने पाकिस्तानी टीम की जीत को आलमी इस्लाम की जीत करार दिया था. शेख रशीद ने बोला था कि मुझे अफसोस है कि यह पहला भारत और पाक का मैच है जो मैं कौमी जिम्मेदारियों की वजह से ग्राउंड में नहीं देख सका. लेकिन मैंने तमाम ट्रैफिक को इस्लामाबाद, रावलपिंडी को हिदायत दी है कि रोड पर रखे कंटेनर्स को हटा दिया जाए, ताकि कौम अपने उत्सव को दिनांक ी ढंग से मनाए.



'आलमी इस्लाम को विजय बधाई हो'
शेख रशीद ने आगे बोला कि पाक की टीम को, पाक की कौम को बधाई हो, आज हमारा फाइनल था. हमारा फाइनल आज ही था. पाक जिंदाबाद इस्लाम जिंदाबाद! दुनिया के मुसलमान समेत भारत के मुसलमानों के जज्बात पाकिस्तानी टीम के साथ थे. सारी आलमी इस्लाम को विजय बधाई हो. शेख रशीद के इस बयान की हिंदुस्तान ही नहीं पूरी दुनिया में तीखी आलोचना हुई थी. स्वयं पाकिस्‍तान के कई लोगों ने इस बयान की कड़ी आलोचना की थी और धर्म को खेल से दूर रखने की नसीहत दी थी.

बता दें कि टी-20 वर्ल्ड कप-2021 का खिताबी मुकाबला ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच खेला जाएगा. न्यूजीलैंड ने जहां पहले सेमीफाइनल में इंग्लैंड को हराकर फाइनल में स्थान बनाई थी तो ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे सेमीफाइनल में पाक को 5 विकेट से पस्त किया. इसका मतलब यह है कि टी-20 वर्ल्ड कप को नया चैंपियन मिलेगा. न्यूजीलैंड जहां पहली बार फाइनल में पहुंचा है तो दूसरी ओर ऑस्ट्रेलिया 2010 के बाद दूसरी बार खिताबी मुकाबले में पहुंचने में कामयाबी हासिल की है.


पाकिस्तान: नवाज की वापसी पर गृह मंत्री शेख रशीद का बड़ा बयान, कहा- 'बेमतलब की बातें'

पाकिस्तान: नवाज की वापसी पर गृह मंत्री शेख रशीद का बड़ा बयान, कहा- 'बेमतलब की बातें'

पूर्व पीएम नवाज शरीफ की संभावित वापसी की अफवाहों के बीच, पाक के गृह मंत्री शेख रशीद अहमद ने बुधवार को बोला कि शरीफ के लौटने की बातें बेमतलब की हैं जो विपक्ष मीडिया का ध्यान आकर्षित करने के लिए कर रहा है.

एक न्यायालय ने शरीफ को करप्शन के मुद्दे में कारागार की सजा सुनाई थी जिसके बाद लाहौर हाई कोर्ट ने 2019 में उन्हें चिकित्सकीय आधार पर चार हफ्ते के लिए लंदन जाने की इजाजत दी थी.

हालांकि, लंदन जाने के बाद से शरीफ पाक नहीं लौटे हैं. उनकी पार्टी का बोलना है कि डॉक्टरों की सलाह पर 71 वर्षीय शरीफ देश वापस लौटेंगे. गृह मंत्री ने कहा, 'शरीफ के वापस आने को बेवजह तूल दिया जा रहा है.' रावलपिंडी में रशीद ने मीडिया से व्यंग्यात्मक लहजे में बोला कि शरीफ के लिए पाक लौटने का एक तरफ का टिकट देने का उनका प्रस्ताव आज भी है. उन्होंने यह भी बोला कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि जिन लोगों ने अपनी ज्यादातर जीवन पाक में गुजारी वह देश को प्यार करने की बजाय उसे छोड़कर चले गए

सेना के साथ 'बेहतर' हुआ शरीफ का तालमेल पाकिस्तान में अगले आम चुनाव से पहले पीएमएल-एन सुप्रीमो और पूर्व पीएम नवाज शरीफ की संभावित वापसी की अफवाहों को लेकर तीखी बहस छिड़ गई है. पीएमएल-एन के अध्यक्ष शहबाज शरीफ, जो पूर्व पीएम के भाई भी हैं, उन्होंने साफ तौर पर बोला कि नवाज शरीफ पूरी तरह से ठीक होने तक वापस नहीं आएंगे. नवाज शरीफ की वापसी की अटकलें ऐसे समय पर लगाई जा रही हैं जब बोला जा रहा है कि सेना के साथ उनका तालमेल फिर से ठीक हो गया है.


'नवाज शरीफ से हार गई नकली सरकार'शनिवार को जारी एक बयान में, शहबाज शरीफ ने बोला कि नवाज शरीफ ब्रिटेन में कानूनी रूप से तब तक रह सकते हैं जब तक कि ब्रिटिश गृह ऑफिस द्वारा वीजा बढ़ाने की अस्वीकृति के विरूद्ध उनकी अपील पर आव्रजन न्यायाधिकरण नियम नहीं बनाते. इस बीच, पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज ने एक ट्वीट में बोला , 'इस नकली सरकार ने नवाज शरीफ से अपनी हार स्वीकार कर ली है, जो पाक का वर्तमान और भविष्य है. एक बड़े व्यक्तित्व को निशाना बनाकर, एक पिग्मी का कद ऊंचा नहीं किया जा सकता है.'