President Donald Trump Impeached: डोनाल्ड ट्रंप दो बार महाभियोग झेलने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बने, कैपिटल बिल्डिंग में हिंसा के लिए उकसाने का आरोप

President Donald Trump Impeached: डोनाल्ड ट्रंप दो बार महाभियोग झेलने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बने, कैपिटल बिल्डिंग में हिंसा के लिए उकसाने का आरोप

वॉशिंगटन: डोनाल्ड ट्रंप दो बार महाभियोग झेलने वाले अमेरिका के पहले राष्ट्रपति बन गए हैं। डेमोक्रेटिक पार्टी के दबदबे वाली प्रतिनिधि सभा ने बुधवार देर रात कैपिटल बिल्डिंग में हिंसा मामले में ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पर अपनी मुहर लगा दी। हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में वोटिंग के दौरान ट्रंप के महाभियोग प्रस्ताव पर पक्ष में 232 और विपक्ष में 197 वोट पड़े। प्रस्ताव के पक्ष में वोट करने वालों में 222 डेमोक्रेट्स सांसद रहे, जबकि 10 रिपब्लिकन। महाभियोग के लिए 218 मतों की जरूरत होती है।

तो छोड़ना पड़ेगा समय से पहले पद
इसके साथ ही अमेरिका में सियासी संकट गहरा गया है। अब सबकी निगाहें सीनेट पर हैं। अगर महाभियोग का प्रस्ताव सीनेट में भी पास हो जाता है तो डोनाल्ड ट्रंप को तय समय से पहले ही राष्ट्रपति का पद छोड़ना होगा। सीनेट में महाभियोग प्रस्ताव पारित पास कराने के लिए दो तिहाई सदस्यों के मतों की आवश्यकता होगी। हालांकि, सीनेट में रिपब्लिकन नेताओं के पास 50 के मुकाबले 51 का मामूली अंतर से बहुमत है। ऐसे में प्रस्ताव पास कराना थोड़ा मुश्किल दिख रहा है, लेकिन यह नहीं भूलना चाहिए कि कई रिपब्लिकन भी ट्रंप के खिलाफ हैं।

2019 में भी चला था महाभियोग
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर इससे पहले 2019 में भी महाभियोग चलाया गया था। हालांकि, फरवरी 2020 में डोनाल्ड ट्रंप के सहयोगियों रिपब्लिकन के बहुमत वाले सीनेट ने शक्ति के दुरुपयोग के आरोप को 52-48 के अंतर से खारिज कर दिया था। डोनाल्ड ट्रंप महाभियोग का आरोप लगने के बावजूद दोबारा राष्ट्रपति चुनाव लड़ने वाले पहले व्यक्ति हैं।

ट्रंप ने हिंसा नहीं करने की अपील की
इससे पहले बहस के दौरान राष्ट्रपति ट्रंप ने वाइट हाउस की ओर से जारी बयान में लोगों से अपील की थी कि देश में अब कोई हिंसा नहीं होनी चाहिए। कोई भी कानून तोड़ने वाला काम नहीं होना चाहिए। यह वह नहीं है जिसका मैं सपॉर्ट करता हूं। न तो इसके लिए अमेरिका खड़ा रहता है। मैं सभी अमेरिकियों से अपील करता हूं कि वे तनाव कम करने और माहौल शांत करने में मदद करें।

अमेरिकी सदन की अध्यक्ष ने बताया देश के लिए खतरा
राष्ट्रपति ट्रंप के महाभियोग पर बहस के दौरान अमेरिकी सदन की अध्यक्ष नैन्सी पलोसी ने कहा, 'हम जानते हैं कि अमेरिका के राष्ट्रपति ने इस विद्रोह, देश के खिलाफ इस सशस्त्र विद्रोह के लिए उकसाया। उन्हें पद से हटना चाहिए। साफ है कि वह देश के लिए खतरा हैं।

ट्रंप को हटाने के लिए मिला था 24 घंटे का नोटिस
इससे पहले पेलोसी ने ट्रंप को हटाने के लिए 24 घंटे का नोटिस दिया था और ऐसा न करने पर महाभियोग के लिए तैयार रहने के लिए कहा था। पेलोसी ने कहा था, ‘राष्ट्रपति के खिलाफ अभियोग चलाने और उन्हें हटाने के लिए मामले को पेश करना उनका (प्रबंधकों) संवैधानिक कर्तव्य है।’

ट्रंप के कई साथी ही उनके खिलाफ
न्यू यॉर्क टाइम्स के मुताबिक सीनेट में रिपब्लिकन पार्टी के नेता मिच मैकॉनेल का मानना है कि महाभियोग के बाद ट्रंप को पार्टी से निकालना आसान हो जाएगा।

यूट्यूब ने बंद किया ट्रंप का चैनल
यूट्यूब ने हिंसा की आशंकाओं के मद्देनजर कम से कम एक हफ्ते के लिए ट्रंप का चैनल सस्पेंड कर दिया। यूट्यूब ने एक ट्वीट में कहा कि उसने नई सामग्री अपलोड होने के बाद ट्रंप के चैनल को निलंबित कर दिया, जिसने उसकी नीतियों का उल्लंघन किया है। बयान में यह साफ नहीं किया गया कि कौन-से विडियो पर सवाल खड़ा किया गया है या उसने किस तरह से उसकी नीतियों का उल्लंघन किया है। कैपिटल हिल की हिंसा के बाद अब तक फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम समेत कई सोशल मीडिया मंचों ने ट्रंप के अकाउंट को सस्पेंड कर दिया है।

यह है पूरा मामला
ट्रंप पर आरोप है कि उन्होंने अपने समर्थकों को कैपिटल बिल्डिंग (संसद परिसर) की घेराबंदी के लिए तब उकसाया, जब वहां इलेक्टोरल कॉलेज के मतों की गिनती चल रही थी और लोगों के धावा बोलने की वजह से यह प्रक्रिया बाधित हुई। इस घटना में एक पुलिस अधिकारी समेत पांच लोगों की मौत हो गई।


भारतीय रंग में रंगेगा कैपिटल हिल

भारतीय रंग में रंगेगा कैपिटल हिल

वाशिंगटन: अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति चुने गए जो बाइडेन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस 20 जनवरी को शपथ ग्रहण करेंगे। इस दौरान समारोह में भारतीय परंपराओं की भी झलकियां देखने को मिलेगी। जानकारी के मुताबिक, जो बाइडेन और कमला हैरिस के स्वागत में कैपिटल हिल के बाहर तमिलनाडु की परंपरागत रंगोली बनेगी। कहा जा रहा है कि रंगोली शपथ ग्रहण से संबंधित ऑनलाइन समारोह का मुख्य आकर्षण केन्द्र होगा।

कैपिटल हिल के बाहर दिखेगी परंपरागत रंगोली
अमेरिका में होने वाले शपथ समारोह में कैपिटल हिल के बाहर तमिलनाडु की परंपरागत रंगोली को जगह मिली है। तमिलनाडु के इस परपंरागत रंगोली को ‘कोलम’ कहा जाता है। परपंरानुसार, कोलम को घर के बाहर सजाना शुभ माना जाता है। चूंकि उपराष्ट्रपति कमला हैरिस की मां मूलरूप से तमिलनाडु की रहने वाली थीं। शायद यहीं वजह है कि दोनों के स्वागत में यह रंगोली बनाई जा रही है।

कोलम सकारात्मक ऊर्जा और नई शुरुआत का प्रतीक
अमेरिका की बहुसांस्कृतिक विरासत को प्रदर्शित करने के लिए कोलम का आयोजन किया गया है। कहा जा रहा है कि इस रंगोली को बनाने के लिए अमेरिका और भारत के 1,800 से अधिक लोगों ने ऑनलाइन के जरिए इस कार्यक्रम में भाग लिया। वहीं इस कार्यक्रम में भाग लेने वाली एक मल्टीमीडिया कलाकार ने कहा है, कई लोगों का मानना है कि कोलम सकारात्मक ऊर्जा और नई शुरुआत का प्रतीक है। विभिन्न समुदायों के सभी आयुवर्ग के लोगों ने पर्यावरण के अनुकूल सामग्री से बनी रंगोलियां बनाने की इस पहल में अपने-अपने घर से भाग लिया। स्थानीय स्तर पर शुरू की गई यह पहल हमारी उम्मीदों से अधिक बड़ी बन गई।”

‘इनॉगरेशन कोलम 2021’
मिली जानकारी के अनुसार, कोलम की हजारों डिजाइन के लिए ‘इनॉगरेशन कोलम 2021’ के कार्यक्रम का आयोजन किया था, जिसकी सदस्य सौम्या सोमनाथ भी हैं। सौम्या ने कोलम के बारे में जानकारी देते हुए बताया, “इस आयोजन में अमेरिका और भारत से करीब 1800 लोगों ने रंगोली की डिजाइन भेजी थी। इसमें से एक रंगोली की डिजाइन फाइनल की गई। पहले यह रंगोली व्हाइट हाउस के बाहर बननी थी, लेकिन बाद में इसे कैपिटल हिल के बाहर बनाने की अनुमति मिली। हालांकि यह एक वीडियो के जरिये ही दिखाई जाएगी। इसकी वजह सुरक्षा व्यवस्थाओं के मद्देनजर रियल बनाने की अनुमति नहीं दी गई है।”

क्या है ये कोलम
दक्षिण भारत में घर के बाहर बनाई जाने वाली रंगोली को कोलम कहा जाता है। यह रंगोली अधिकतर तमिलनाडु और केरल में देखने को मिलता है। कहा जाता है घर के बाहर बनाई जाने वाले यह रंगोली शुभ होती है। बता दें कि कोलम को बनाने की भी एक परपंरा है। इसे चावल के सूखे आटे को अंगूठे और तर्जनी उंगली के मध्य रखकर एक निश्चित आकार में देते हुए डिजाइन तैयार किया जाता है।


सांसद-विधायक निलंबित, पाक चुनाव आयोग ने की कड़ी कार्रवाई, फंस गए इमरान खान       भारतीय रंग में रंगेगा कैपिटल हिल       राष्ट्रपति ट्रंप ने जाते-जाते चीन को दी चेतावनी       US में नई सरकार, आज बाइडेन का शपथ ग्रहण       क्या होगा जो बाइडेन का एजेंडा, ओबामा की राह पर चलेंगे या अलग होगी रणनीति       बाइडेन सरकार में 20 भारतीय, प्रशासन में होंगे असरदार       वर्चुअल मीटिंग करते दिखें अलीबाबा के फाउंडर, लापता जैक मा आए सामने       तबाही की और दुनिया, कोरोना के बाद इनसे होगा सामना       इतिहास रचने को तैयार भारत की बेटी, इस गांव में जश्न       महातबाही से कांपी दुनिया, 18 महीनों का अंधकार युग       बर्फीले तूफान का कहर, एक दूसरे से टकराए 130 वाहन       दुनिया पर होगा असर, राष्ट्रपति बनते ही बाइडन लेंगे ये बड़े फैसले       राष्ट्रपति बनते ही जो बिडेन ने सबसे पहले कहीं ये बात       सेंट्रल मैड्रिड में ब्लास्ट: धमाके में गिरी इमारत, निकाली जा रही लाशें       दुनियाभर में हो रही आलोचना, मेलानिया ट्रंप जाते जाते कर गईं कुछ ऐसा       दिल्ली वाले सावधान! सड़क पर ड्राइविंग से पहले जान लें ये नियम, वरना...       अब रोएगा पाकिस्तान, सेना पर हमला जवान हुए घायल       वैक्सीन पर बड़ी खबर: सरकार ने तो दिलाया भरोसा, लेकिन...       पाकिस्तान और खूंखार आतंकी, यहां गिरा रहे भयानक हथियार       भारतीय व पाकिस्तानी उपन्यासकार, ऐसे हुई भारत वापसी