संघीय न्यायाधीश ने ट्रंप के अभियान की ओर से पेनसिल्वेनिया में दायर मुकदमे को खारिज किया

संघीय न्यायाधीश ने ट्रंप के अभियान की ओर से पेनसिल्वेनिया में दायर मुकदमे को खारिज किया

वाशिंगटन। अमेरिका में एक संघीय न्यायाधीश ने देश के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अभियान की ओर से पेनसिल्वेनिया में दायर उस मुकदमे को खारिज कर दिया है जिसमें लाखों मतों को अवैध घोषित करने की मांग की गई थी। न्यायाधीश ने कहा कि आरोप अटकलों पर आधारित हैं। यूएस मिडल डिस्ट्रिक्ट ऑफ पेनसिल्वेनिया के न्यायाधीश मैथ्यू ब्रान ने ट्रंप अभियान का अनुरोध शनिवार को खारिज कर दिया, जिससे तीन नवंबर को हुए चुनाव के परिणामों को चुनौती देने के राष्ट्रपति ट्रंप के प्रयासों को खासा झटका लगा है। 

राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडन विजयी रहे हैं। न्यायाधीश ब्रान ने कुछ दिन पहले आरोप लगाया था कि उन्हें फोन कॉल करके परेशान किया जा रहा है। उन्होंने अपने फैसले में कहा कि ट्रंप अभियान ने ‘‘तोड़-मरोड़ कर और बिना आधार के कानूनी दलीलें’’ पेश कीं और अटकलों पर आधारित आरोपों के समर्थन में सबूत पेश नहीं किए। ट्रंप अभियान ने मतदान प्रक्रिया में अनियमितताओं का आरोप लगाते हुए इस महीने की शुरुआत में मुकदमा दायर किया था। नव-निर्वाचित राष्ट्रपति बाइडन ने पेनसिल्वेनिया में ट्रंप को 81,000 से भी अधिक मतों के अंतर से पछाड़ दिया। इस महत्वपूर्ण राज्य में 20 इलेक्टोरल कॉलेज वोट हैं। न्यायाधीश ब्रान ने अपने फैसले में कहा, ‘‘यह अदालत ऐसा कोई आधार नहीं समझ सकी है जिसके तहत वादी ने चुनाव में इतने व्यापक सुधार की मांग की है।


चांद से 2 किलो मिट्टी लेकर चीन का यान लौट रहा धरती की ओर

चांद से 2 किलो मिट्टी लेकर चीन का यान लौट रहा धरती की ओर

बीजिंग: चांद की धरती से मिट्टी का सैंपल कलेक्ट करने का काम चीन ने पूरा कर लिया है। इस काम को पूरा करने में उसने स्पेसक्राफ्ट चांगई-5 की मदद की है।

मिट्टी का सैंपल कलेक्ट करने के बाद स्पेसक्राफ्ट चांगई-5 चांद की सतह से धरती पर उतरने के लिए उड़ान भर चुका है। इसी महीने में यह स्पेसक्राफ्ट चांद की धरती की दो किलोग्राम मिट्टी के साथ इनर मंगोलिया की धरती पर उतरेगा। ऐसा अनुमान जताया जा रहा है कि ये स्पेसक्राफ्ट 17 दिसंबर तक अपना मिशन खत्म खत्म करके धरती पर वापस लौट आएगा।

अगर चीन इस मिशन को सफलतापूर्वक पूरा कर लेता है तो ये उसके वैज्ञानिकों की एक बड़ी उपलब्धि होगी। बता दे कि चांगई-5 स्पेसक्राफ्ट 23 नवंबर की रात में साउथ चाइना सी से लॉन्च किया गया था।

चाइना नेशनल स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन ने चांगई-5 स्पेसक्राफ्ट को चांद की उस सतह पर उतारा था, जहां पर करोड़ों साल पहले ज्वालामुखी होते थे। ये चांद का उत्तर-पश्चिम का इलाका है, जो हमें आंखों से दिखाई देता है।

सबसे पहले अमेरिका और फिर रूस ने 1960 और 70 के दशक में चांद से मिट्टी लाने का काम किया था। गौर करने वाली बात ये है कि चीन का चांगई-5 रोबोटिक स्पेसक्राफ्ट चांद पर ऐसी जगह पर उतरा है जहां पहले कोई मिशन नहीं भेजा गया।

उसने चांद की धरती से मिटटी कलेक्ट की और मंगलवार की रात चांद की सतह से टेकऑफ कर लिया।
चीनी मीडिया का कहना है कि चांगई-5 स्पेसक्राफ्ट के टेकऑफ के साथ ही चीन पहली बार इस तकनीक में महारथी हो जाएगा कि वह किसी अन्य अंतरिक्षीय ग्रह से अपने यान को उड़ा सके।

चीन का स्पेसक्राफ्ट 1.5 किलोग्राम पत्थर और धूल चांद की सतह से ला रहा है। 500 ग्राम मिट्टी जमीन के 6.6 फीट अंदर से खोदकर ला रहा है।


चीन के वैज्ञानिकों को सता रहा है इस बात का डर
स्पेसक्राफ्ट के उड़ान भरने के साथ ही अभी चीन के वैज्ञानिकों की धड़कनें भी इस वक्त तेज हो गई हैं। उन्हें केवल एक ही बात का डर है कि इतनी लंबी यात्रा के दौरान कहीं ऐसा न हो कि कैप्सूल में रखी मिट्टी स्पेसक्राफ्ट के यंत्रों से चिपक न जाए।

धरती के वायुमंडल में घुसते ही यान को भारी गर्मी और घर्षण का सामना करना पड़ेगा। यह एक तनावपूर्ण पल होगा। इसकी वजह से यान के कई हिस्से ढीले हो सकते हैं।

अगर चीन इस मिशन को सफलतापूर्वक पूरा कर लेता है तो चांद की मिट्टी से खनिज, अन्य गैसों, रासायनिक प्रक्रियाओं और जीवन की संभावनाओं पर रिसर्च करने में मदद मिलेगी। साथ ही यह भी पता चलेगा कि चांद का भविष्य कैसा होगा।

इससे पहले अमेरिकी और सोवियत संघ की मिट्टी की जांच करने पर पता चला था कि वहां पर अलग-अलग स्थानों पर मौजूद मिट्टी और पत्थरों की उम्र अलग-अलग है।

कोई 300 से 400 करोड़ पुराने हैं तो कुछ 130 से 140 करोड़ साल पुराने। चांद की सतह पर ज्वालामुखीय गतिविधियां बेहद जटिल रही हैं। उन्हें मिट्टी के सैंपल से समझने में शायद मदद मिल सकें।


PCB ने किया ऐलान! इस देश में खेला जाएगा एशिया कप 2021       अजीत अगरकर के नाम दर्ज हैं कई रिकॉर्ड       भारत की हुई जीत, ऑस्ट्रेलिया 11 रनों से हारा       इस नए नियम से भारत को मिली संजीवनी, जानिए इसके बारे में       टीम में न होने पर भी चहल बने हीरो, भारत को ऐसे जिताया पहला टी-20       NCB अफसरों पर एक्शन, ड्रग्स केस में भारती समेत इनसे जुड़े तार       कंगना से भिड़े दिलजीत, गुस्से में बोले पंजाबी सिंगर       नेहा-रोहनप्रीत का TV शो, शादी के बाद पहली बार दिखें साथ       किसानों के मुद्दे पर मीका सिंह ने कंगना को सुनाई खरी-खोटी       सैफ की चाहत, बेटे की इस एक्टर की तरह बॉलीवुड में हो धमाकेदार एंट्री       दिलजीत दोसांझ से पंगा लेना कंगना को पड़ा भारी       इस एक्ट्रेस ने पहनी ऐसी ड्रेस, सोशल मीडिया पर हुईं ट्रोल       जावेद जाफरी की ये बातें नहीं जानते होंगे आप       कंगना और दलजीत के फैंस में हुआ बड़ा जंग, ट्विटर पर किए ये कमेंट       इस एक्ट्रेस का सबसे बड़ा खुलासा, कहा...       बॉलीवुड के नेचुरल एक्टर, काजोल की नानी से था रिश्ता       फैशनेबल युग फैशन प्रीन्योर, चौंका दिया सबको       किसानों के प्रदर्शन पर धर्मेंद्र ने ट्वीट किया डिलीट, लोगों ने किया ट्रोल       किसानों पर बयान के बाद निशाने पर कंगना       ओम प्रकाश शर्मा ने कहा कि धांधली से चुनाव जीती BJP, 13 को करेंगे आंदोलन का ऐलान