डायबिटीज के मरीजों के लिए अमृत समान है जामुन का सिरका, ऐसे करें सेवन

डायबिटीज के मरीजों के लिए अमृत समान है जामुन का सिरका, ऐसे करें सेवन

नई दिल्ली। डायबिटीज एक लाइलाज बीमारी है। डायबिटीज रोग में रक्त में शर्करा स्तर बढ़ जाता है। साथ ही अग्नाशय से इंसुलिन हार्मोन निकलना बंद हो जाता है। डायबिटीज दो प्रकार के होते हैं। टाइप 1 टायबिटिज और टाइप 2 डायबिटीज। टाइप 2 डायबिटीज अधिक खतरनाक है। यह बीमारी ज्यादातर वयस्कों को होती है। इस बीमारी में दवा के साथ परहेज की विशेष जरूरत होती है। अगर लापरवाही बरतते हैं, तो यह सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकती है। विशेषज्ञों की मानें तो डायबिटीज के मरीजों को खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए और नियमित रूप से एक्सरसाइज करनी चाहिए। जबकि मीठे चीजों से दूरी बनाए रखनी चाहिए। अगर आप भी डायबिटीज के मरीज हैं और अपना ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करना चाहते हैं, तो रोजाना जामुन के सिरके का सेवन करें। आइए जानते हैं-

जामुन का पेड़ देश के सभी हिस्सों में आसानी से मिल जाता है। इसे कई नामों से जाना जाता है। अंग्रेजी में इसे ब्लैकबेरी कहा जाता है। इसका स्वाद कसैला और अम्लीय होता है। गांव इलाके में लोग जामुन को नमक के साथ खाते हैं। डाइट चार्ट के अनुसार, एक एक कप जामुन में 20-25 कैलोरीज पाया जाता है। आयुर्वेद में जामुन का दवा की तरह इस्तेमाल किया जाता है। इस फल में फाइबर, मैग्नीशियम, आयरन और विटामिन-ए, बी, सी,  पाए जाते हैं जो सेहत के लिए लाभदायक होते हैं। वहीं, जामुन का सिरका भी सेहत के लिए वरदान साबित होता है। खासकर डायबिटीज के मरीजों के लिए यह अमृत समान है। यह त्वचा, मसूढ़ों और कई अन्य रोगों में गुणकारी है। डायटीशिन हमेशा ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए जामुन के सिरके का सेवन करने की सलाह देते हैं।

कैसे करें सेवन

रोजाना सुबह में जामुन के सिरके का सेवन करने से डायबिटीज रोग में आराम मिलता है। इसके लिए रोजाना नाश्ते के समय एक चम्मच जामुन के सिरके को आधे गिलास पानी में मिलाकर सेवन करें। इससे ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रहता है। साथ ही पाचन तंत्र मजबूत होता है।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें


महामारी से बचाव में कारगर 'मास्क' वन्यजीव के लिए साबित हो रहा नुकसानदेह

महामारी से बचाव में कारगर 'मास्क' वन्यजीव के लिए साबित हो रहा नुकसानदेह

वाशिंगटन। कोरोना वायरस महामारी (coronavirus pandemic) के दौरान कारगर मास्क ( Masks) वन्यजीवों, पक्षी और पानी में रहने वाले जीव-जंतुओं के लिए नुकसानदेह और घातक साबित हो रहा है।  जब से कोविड-19 संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए  सार्वजनिक जगहों पर मास्क को अनिवार्य किया गया है तब से एकबार इस्तेमाल किए जाने वाले सर्जिकल मास्क दुनिया भर के सड़कों, पानी और समुद्री तटों पर बिखरे पड़े हैं। एक बार पहना जानेवाला पतला सा प्रोटेक्टिव मटीरियल नष्ट होने में सैंकड़ों साल लगा देता है। पशु अधिकारों के समूह पेटा (PETA) के एश्ले फ्रुनो (Ashley Fruno) ने कहा, 'फेस मास्क का इस्तेमाल जल्दी नहीं खत्म होने वाला है लेकिन इस्तेमाल के बाद जब हम इसे  फेंक देते हें तब यह पर्यावरण और जानवरों को नुकसान पहुंचा सकता है।' 

 मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर के बाहरी इलाके में लंगूरों को मास्क के स्ट्रेप चबाते हुए देखा गया। वहीं ब्रिटेन के चेम्सफोर्ड सिटी में भी समुद्री पक्षी का पैर इस मास्क के फंदे में एक सप्ताह तक फंसा रह गया था। एनिमल वेलफेयर चैरिटी ने इस घटना का जिक्र कर सतर्क किया। चैरिटी की नजर जब इस पक्षी पर गई तब इसके पैर बंधे होने के कारण यह बेहोशी की अवस्था में था इसे तुरंत वन्यजीव अस्पताल (wildlife hospital) ले जाया गया।  

पर्यावरण के लिए काम करने वाले ग्रुप ओशंस एशिया (OceansAsia) के अनुसार,  पिछले साल 1.5 बिलियनसे अधिक मास्क समुद्रों में प्रवाहित किए गए। 


Big Boss 14: एजाज की रुबीना-अर्शी से जमकर हुई लड़ाई       भानुप्रिया ने साउथ के साथ ही हिंदी फिल्मों पर भी किया राज       शाहिद का नाम लेकर चिढ़ा रहे थे रणबीर, इस एक्ट्रेस ने ऐसे कर दी बोलती बंद       बाॅलीवुड एक्टर सोनू सूद बने ट्रेलर, फ्री में सिल रहे कपड़े       देवदास ने दिलाई सुचित्रा को हिंदी सिनेमा में पहचान       भीम सेना पर भड़की ये एक्ट्रेस, जीभ काटने के ऐलान पर दिया ये जवाब       ‘तांडव’ वेब सीरीज पर हंगामे को लेकर साक्षी महराज बोले...       फैंस हो जाएं अलर्टः बॉलीवुड में बढ़ी हैकिंग क्राइम, अब इस एक्ट्रेस का इंस्टाग्राम अकाउंट हैक       ‘तांडव’ पर मचा घमासान: बीजेपी करेगी विरोध प्रदर्शन, नेता बोले...       सौमित्र चटर्जी का फिल्मों तक सफर, इस नाटक से आया टर्निंग पाइंट       इस बड़ी एक्ट्रेस के खिलाफ पूर्व राज्यपाल ने दर्ज कराई FIR       सीएम योगी, कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा के पिता को दी श्रद्धांजलि       यूपी में बची इतनी वैक्सीन, 22 जनवरी को फिर टीकाकरण       वैक्सीन से मौत! टीका लगवाने के 24 घंटे बाद तोड़ा दम, UP में हड़कंप       लखनऊ में कोरोना हारा, 6 महीने में सिर्फ इतने संक्रमित       लखनऊ में रेल हादसा, पटरी से उतरे ट्रेन के डिब्बे       यूपी कैबिनेट विस्तार, 26 जनवरी के बाद कई मंत्रियों की छुट्टी       पाकिस्तान में मोदी-मोदी, अलग सिंधु देश की उठी मांग       भारत-नेपाल हुए एक, वैक्सीन लाई करीब       मुल्ला ने जारी किए आदेश, जबकि खुद की है दो बेगम