Utility: अब केवल 30 मिनट में आपके दरवाजे पहुंचेगा गैस सिलेंडर, जानिए कब से शुरू होगी सर्विस

Utility: अब केवल 30 मिनट में आपके दरवाजे पहुंचेगा गैस सिलेंडर, जानिए कब से शुरू होगी सर्विस

नई दिल्ली। अगर आप एलपीजी गैस सिलेंडर ( Lpg gas cylinder ) की बुकिंग के बाद कई-कई दिनों तक उसका इंतजार करने से परेशान हैं तो अब टेंशन छोड़ दीजिए। क्योंकि सरकारी तेल कंपनी इंडियन ऑयल ( Indian Oil ) ने इस समस्या का समाधान करने के लिए एक प्रभावी प्लान बनाया है। इस प्लान के तहत अब केवल 30 मिनट के भीतर गैस का सिलेंडर आपके घर पर होगा। इसका मतलब यह हुआ है कि सिलेंडर की बुकिंग के दिन ही आपको अपना गैस सिलेंडर मिल जाएगा। शुरुआती दौर में आईओसी इस प्लान को हर राज्य के केवल एक शहर में ही शुरू करेगी, लेकिन बाद में इसको विस्तार दे दिया जाएगा।

फरवरी की पहली तारीख से इस योजना का आगाज

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह सेवा शुरू करने के लिए आईओसी हर राज्य से एक जिले या फिर शहर का चुनाव करेगी। सिलेंडर की तत्काल सेवा के तहत अब कंपनी अपने ग्राहकों को केवल 30 से 45 मिनट के भीतर ही सिलेंडर मुहैया कराएगी। इस संबंध में आईओसी ने जानकारी देते हुए बताया कि अभी इस योजना पर काम चल रहा है, जल्द ही इसको फाइनल टच दे दिया जाएगा। आईओसी के अनुसार कंपनी की इस शुरुआत से दूसरी कंपयिों को कड़ी ट क् कर मिलेगी। कंपनी ने बताया कि अगले माह यानी फरवरी की पहली तारीख से इस योजना का आगाज कर दिया जाएगा।

आईओसी के दुनियाभर में 28 करोड़ उपभोक्ता

आपको बता दें कि कंपनी इंडेन ब्रांड के नाम से अपनी गैस सिलेंडर सर्विस का संचालन करती है। इसके उपभोक्ता का देश में सबसे ज्यादा हैं। रिपोर्ट के अनुसार आईओसी के दुनियाभर में 28 करोड़ उपभोक्ता हैं। इनमें से 14 करोड़ कस्टमर इंडेन गैस का यूज करते हैं। गौरतलब है कि सिंगल सिलेंडर कस्टमर्स को गैस खत्म होने पर खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस समस्या के समाधान के लिए आईओसी यह योजना लेकर आई है।


नौकरी पर बड़ा ऐलान, कोरोना में गई जॉब तो ऐसे करें आवेदन

नौकरी पर बड़ा ऐलान, कोरोना में गई जॉब तो ऐसे करें आवेदन

नई दिल्‍ली। देश में कोरोना महामारी के संकट की वजह से बीते साल 2020 में नौकरी गंवाने वाले लोगों के लिए सरकार ने बड़ा ऐलान करते हुए राहत दी है। सरकार की तरफ से मार्च 2020 के बाद से दिसंबर 2020 तक जिन लोगों ने नौकरी गंवाई है उनको 40 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद दी गई है। बता दें, ये मदद कर्मचारी राज्‍य बीमा निगम (Employee State Insurance Corporation) की तरफ से पंजीकृत कामगारों को 50 प्रतिशत बेरोजगारी लाभ (Unemployment Benefit) के रूप में दी गई है।

योजना को जून 2021 तक बढ़ा दिया
ऐसे में कर्मचारी राज्‍य बीमा निगम (ESIC) में इंश्‍योरेंस कमिश्‍नर, रेवेन्‍यू एंड बेनिफिट, एम के शर्मा ने बताया कि बीते साल कोरोना महामारी की वजह से बड़ी संख्‍या में लोग बेरोजगार हो गए थे। जिसे देखते हुए श्रम मंत्रालय की तरफ से अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना (Atal Beemit Vyakti Kalyan Yojana) शुरू की गई थी।

जिसके चलते दिसंबर 2020 तक इस योजना में देशभर से आवेदन आए हैं। इनमें से 55 हजार लोगों को इस योजना का लाभ दिया जा चुका है। साथ ही इन लोगों को तीन महीने तक सैलरी का 50 प्रतिशत हिस्‍सा भी दिया जा रहा है।

जानकारी देते हुए एम के शर्मा कहते हैं कि सरकार की तरफ से इसके नियम बदलने और मिलने वाले लाभ की राशि बढ़ाकर सैलरी का 50 फीसदी करने के बाद बेरोजगार (Unemployed) हुए लोगों का अच्‍छा रुझान भी देखने को मिल रहा है। करीब 1500 आवेदन रोजाना आ रहे हैं। चूंकि अभी इस योजना को जून 2021 तक बढ़ा दिया गया है।

बेराजगार व्‍यक्ति ऑनलाइन आवेदन कर सकते
तो अब ऐसे में 6 महीने तक और इसमें आवेदन करने का मौका लोगों के पास है। और इसके साथ ही इस योजना के लिए नियमों में भी ढिलाई दी गई है। जिससे बिना एम्‍पलॉयर की मंजूरी लिए भी कोई भी बेराजगार व्‍यक्ति ऑनलाइन आवेदन कर सकता है।

देश में महामारी कोरोना की वजह से हजारों लोगों ने अपना रोजगार गंवा दिया। जिसे देखते हुए केंद्रीय श्रम मंत्रालय के अधीन ईएसआईसी के तहत अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना शुरू की गई।

सरकार की इस योजना के तहत ईएसआईसी के तहत लाभ पाने वाले वे सभी लोग इस योजना का लाभ उठा सकते हैं जो कोरोना काल में बेरोजगार हो गए हैं। देशभर में ईएसआईसी के तहत लाभार्थियों की संख्‍या साढ़े तीन करोड़ है। जिनमें से कुछ लोगों की कोरोना और लॉकडाउन के दौरान नौकरियां चली गई थीं या कंपनियां बंद हो गई थीं।

आवेदन के लिए ये करें
तो ध्यान दीजे कि अगर आपकी नौकरी भी कोरोना काल के दौरान चली गई थी और नौकरी जाने तक आप वेतन में से ईएसआईसी कटवाते थे तो आप भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

इसके लिए जरूरी है कि बीमित व्यक्ति ने नौकरी जाने से पहले कम से कम 2 साल तक नौकरी की हो और अंशदान की अवधि में कम से कम 78 दिन अंशदान किया हो। वहीं पीड़ित व्यक्ति को क्लेम नौकरी जाने के 30 दिन के अंदर करना होगा। और इसके लिए क्लेम फॉर्म को सीधे ESIC ब्रांच कार्यालय को ऑनलाइन जमा किया जा सकता है।

फिर इसके साथ ही ESIC की वेबसाइट पर जाकर अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना का फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं। और फॉर्म मिलने के 15 दिन के अंदर क्लेम का पैसा बीमित व्यक्ति के बैंक खाते में आ जाएगा। इसमें व्यक्ति की पहचान करने के लिए आधार का इस्तेमाल होगा।


भारत होगा बहुत ताकतवर, बिडेन सहयोगी साबित होंगे       सोर्स कोड में छिपा रहस्य, टेक्निकल टीम ने बनाई नई वेबसाइट       राष्ट्रपति पद छोड़ने से पहले समर्थकों का भला करना नहीं भूले ट्रंप       करोड़पति बना मछुआरा, समुद्र ने बना दिया इसे इतना अमीर       चीन-WHO का काला सच, लाखों मौत की वजह आई सामने       इतिहास में पहली बार, अमेरिका में होगा ऐसा शपथ ग्रहण       नमाज पर इकट्ठा भीड़, हमले से कांपा अफगानिस्तान       सांसद-विधायक निलंबित, पाक चुनाव आयोग ने की कड़ी कार्रवाई, फंस गए इमरान खान       भारतीय रंग में रंगेगा कैपिटल हिल       राष्ट्रपति ट्रंप ने जाते-जाते चीन को दी चेतावनी       US में नई सरकार, आज बाइडेन का शपथ ग्रहण       क्या होगा जो बाइडेन का एजेंडा, ओबामा की राह पर चलेंगे या अलग होगी रणनीति       बाइडेन सरकार में 20 भारतीय, प्रशासन में होंगे असरदार       वर्चुअल मीटिंग करते दिखें अलीबाबा के फाउंडर, लापता जैक मा आए सामने       तबाही की और दुनिया, कोरोना के बाद इनसे होगा सामना       इतिहास रचने को तैयार भारत की बेटी, इस गांव में जश्न       महातबाही से कांपी दुनिया, 18 महीनों का अंधकार युग       बर्फीले तूफान का कहर, एक दूसरे से टकराए 130 वाहन       दुनिया पर होगा असर, राष्ट्रपति बनते ही बाइडन लेंगे ये बड़े फैसले       राष्ट्रपति बनते ही जो बिडेन ने सबसे पहले कहीं ये बात