Maruti Suzuki Alto या Renault Kwid, जानें कौन सी किफायती हैचबैक आपके लिए है बेस्ट

Maruti Suzuki Alto या Renault Kwid, जानें कौन सी किफायती हैचबैक आपके लिए है बेस्ट

भारत में सस्ती कारों के काफी ऑप्शंस हैं जिनमें एंट्री लेवल हैचबैक सेगमेंट सबसे ऊपर है। एंट्री लेवल हैचबैक कारें आकार में छोटी होती हैं और इनकी हैंडलिंग बेहद आसान होती है। बता दें कि एंट्री लेवल हैचबैक कारें भारत में काफी पसंद की जाती है क्योंकि इनका रख-रखाव और सर्विसिंग कम खर्चीली होती है। भारत में Maruti Suzuki Alto और Renault Kwid की सबसे ज्यादा डिमांड है। ऐसे में आज हम आपके लिए इन दोनों ही कारों का कम्पैरिजन लेकर आए हैं जिससे आप समझ सकें कि आपके लिए कौन सी कार बेस्ट रहेगी।

Maruti Suzuki Alto

Maruti Suzuki Alto के इंजन और पावर की बात करें तो इसमें 3-सिलिंडर, 12-वाल्व, 796 सीसी का BS-6 इंजन दिया गया है। इसका इंजन 6000 आरपीएम पर 48PS की मैक्सिमम पावर और 3500 आरपीएम पर 69Nm का पीक टॉर्क जेनरेट करता है। इसका इंजन 5-स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन से लैस है।


माइलेज- Maruti Suzuki Alto माइलेज के मामले में Alto 800 से थोड़ी महंगी है। हालांकि, इसमें आपको 22.05 किलोमीटर प्रति लीटर का माइलेज मिलेगा।

Renault Kwid के इंजन और पावर की बात करें तो इसमें 0.8-लीटर और 1.1-लीटर पेट्रोल इंजन दिया जाता है। इसका 799 सीसी का इंजन 5678 आरपीएम पर 54 bhp का पावर और 4386 आरपीएम पर 72 Nm का पीक टॉर्क पैदा करता है। वहीं 1.0 लीटर वाला इंजन 5500 आरपीएम पर 67 bhp का पावर और 4250 आरपीएम पर 91 Nm का पीक टॉर्क पैदा करता है। दोनों ही इंजन 5-स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स से लैस हैं। वहीं, 1.0 लीटर इंजन में ऑटोमेटिक ट्रांसमिशन स्टैंडर्ड मिलता है।

 
माइलेज- ARAI के मुताबिक 0.8-लीटर इंजन वेरिएंट 25.17 किलोमीटर प्रति लीटर का माइलेज देता है। वहीं, 1.0 लीटर इंजन के मैनुअल वेरिएंट में 24.04 किलोमीटर प्रति लीटर का माइलेज मिलता है। जबकि, 1.0 लीटर इंजन का ऑटोमेटिक ट्रांसमिशन (AMT) वेरिएंट 23.01 किलोमीटर प्रति लीटर का माइलेज देता है।

कीमत- Renault Kwid की शुरुआती दिल्ली एक्स-शोरूम कीमत 3,32000 रुपये है। 


कार के नंबर को लेकर एक बार फिर लोगों में दिखी दीवानगी

कार के नंबर को लेकर एक बार फिर लोगों में दिखी दीवानगी

दुनिया भर में फैंसी रजिस्ट्रेशन नंबर को लेकर दीवानगी कम नहीं है। हम कई बार इस तरह की खबरें सुनते हैं, लेकिन आज यह खबर किसी देश से नहीं बल्कि भारत से ही है। दरसअल, इंदौर के क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (RTO) ने फैंसी नंबर 0001 को 5 लाख 21 हजार रुपये में सेल किया है। वहीं 0009 नंबर को 1 लाख 82 हजार में बेचा गया है।

हमेशा से VIP नंबर को लेकर लोगों में दिखता है क्रेज

वाहन मालिकों ने इनके अलावा कई कार नंबरों में लगातार रुचि दिखाई है। इन नंबरों को खरीदने के पीछे आमतौर पर लोगों की जन्म तिथि, ज्योतिषीय रूप से महत्वपूर्ण संख्या, शुभ अंक या कुछ नाम रखने के लिए भाग्यशाली संख्या पर आधारित होती है। हालांकि यह यह पहली बार नहीं है जब लोगों ने फैंसी रजिस्ट्रेशन नंबर के लिए अपनी दीवानगी दिखाई है। 

साल 2017 में, "0001" वाली एक VIP कार को दिल्ली में 16 लाख रुपये में नीलाम किया गया था, बताते चलें, कि दिल्ली में रहने वाले अब अपने वाहन के फैंसी नंबरों के लिए ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं, क्योंकि परिवहन विभाग ने ई-नीलामी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ड्राफ्ट जमा करने की मौजूदा प्रणाली को खत्म करने का फैसला किया है।

इन नंबर के लिए कोई भी कर सकता है अप्लाई

वैसे हम आपको बता दें कि ऐसा नहीं है, कि इन नंबर को कोई बड़ी हस्ती ही हासिल कर सकती है, कोई भी सामान्य व्यक्ति इन नंबरों को प्राप्त कर सकता है क्योंकि ये ज्यादातर पहले आओ पहले पाओ के आधार पर उपलब्ध हैं। सभी उपलब्ध फैंसी नंबर वाहन पोर्टल पर सूचीबद्ध हैं। साइट पर जाने के लिए बस 'फैंसी नंबर' खोजें और पोर्टल खुल जाएगा। 


इसके बाद आप खुद को पंजीकृत कर सकते हैं, और साइट आपको अपनी खुद की यूजर आईडी रखने की अनुमति देती है। यह यूजर आईडी एक बार के उपयोग के लिए नहीं बल्कि जीवन भर के लिए है। इसलिए जब आप दूसरी खरीदारी करते हैं तो आप पांच साल बाद उसी आईडी का उपयोग कर सकते हैं। यह आईडी आपको निजी और व्यावसायिक दोनों, दो और चार पहिया वाहनों के लिए फैंसी नंबर प्राप्त करने की अनुमति देती है।