बीमा कंपनियां नए बीमा प्रीमियम से हो रहीं मालामाल

बीमा कंपनियां नए बीमा प्रीमियम से हो रहीं मालामाल

कोरोना संकट के दौर में बीमा कंपनियों के राजस्व में जोरदार तेजी दर्ज की गई है. इसमें ज़िंदगी बीमा कंपनियां सबसे आगे हैं. इस वर्ष अक्तूबर में ज़िंदगी बीमा कंपनियों की नए प्रीमियम से कमाई 32 प्रतिशत बढ़ी है.

जीवन बीमा कंपनियों की स्थिति

- 24 ज़िंदगी बीमा कंपनियां हैं देश में

- 70 प्रतिशत मार्केट में हिस्सेदारी एलआईसी की है

- 30 प्रतिशत हिस्सेदारी में 23 कंपनियां करती हैं होड़

कोरोना ने दिया था झटका

- 18 प्रतिशत की गिरावट आई थी कमाई में अप्रैल-जून की पहली तिमाही में

- 32 प्रतिशत अक्तूबर में वृद्धि से तीसरी तिमाही में बंपर कमाई की उम्मीद

सितंबर तिमाही की दोगुना कमाई

जीवन बीमा कंपनियों की नए प्रीमियम से कमाई सितंबर तिमाही में 16 प्रतिशत बढ़ी है. जबकि अक्तूबर माह में नए प्रीमियम से कमाई 32 प्रतिशत बढ़ी है. अक्तूबर में ज़िंदगी बीमा कंपनियों को नए प्रीमियम से 22,776 रुपये की कमाई हुई है.

अक्तूबर में प्रीमियम से आय

अवधि               निजी कंपनियां     एलआईसी        कुल
अक्तूबर 2019     5849.71         11422.15     17271.86

अक्तूबर 2020    7227.96           15548.06     22776.03
वृद्धि (% में)        23.56                36.12           31.87

अक्तूबर 2019 तक 41627.60   101402.37    143029.96
अक्तूबर 2020 तक 43937.59   103556.08    147503.67

वृद्धि (% में)           5.5                  2.3                3.03


सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला, झूम उठेंगे आप

सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला, झूम उठेंगे आप

नई दिल्ली: देश के 35 लाख पेंशनर्स के लिए बड़ी खुशखबरी है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने बड़ा फैसला लिया है। ईपीएफओ ने पेंशनर्स के लिए जीवन प्रमाण-पत्र जमा करने समय-सीमा बढ़ा दी है। पेंशनर्स अब 28 फरवरी 2021 तक बढ़ा दी है। इससे लगभग 35 लाख उन पेंशनर्स को फायदा मिलेगा।

श्रम मंत्रालय ने एक बयान में जानकारी देते हुए कहा कि जो पेंशनर्स 30 नवंबर तक जीवन प्रमाण-पत्र जमा नहीं कर सके हैं, उन्हें फरवरी तक हर महीने पेंशन मिलती रहेगी। श्रम मंत्रालय ने कहा है कि बुजुर्गों को कोरोना महामारी से खतरे को देखते हुए ईपीएफओ ने तारीख बढ़ाई गई है।

वर्तमान नियम यह है कि पेंशनर्स को हर साल 30 नवंबर तक अपने जीवित होने का प्रमाण-पत्र जमा करना होता है, जो एक साल तक वैध रहता है। मंत्रालय ने बताया कि कोरोना संकट की वजह से जो बुजुर्ग अब तक यह प्रमाण पत्र जमा नहीं करा पाए हैं, उनकी पेंशन राशि को फरवरी तक नहीं रोका जाएगा।

यह है नियम
सरकारी नियमों के मुताबिक, हर पेंशनर्स को हर साल नवंबर में अपना जीवित प्रमाण पत्र जमा कराना होता है। इसके बाद ही सरकार पेंशनर्स की पेशन चालू रखती है। अगर कोई पेंशनर्स इस समय अविधी में अपना जीवन प्रमाण पत्र नहीं जमा करते हैं तो उनकी पेंशन को बंद कर दिया जाता है। केंद्र सरकार ने 80 साल से अधिक के बुजुर्ग पेंशनर्स को 1 अक्टूबर से ही जीवन प्रमाण पत्र जमा कराने की सुविधा दी है।

अब मिलेगी ये भी सुविधा
केंद्र सरकार की तरफ से पेंशनर्स के लिए हाल ही में एक नई सुविधा की भी शुरुआत की गई है और वह है डाकियों द्वारा पेंशनभोगियों को जीवन प्रमाण पत्र ऑनलाइन जमा करने के लिए घर के दरवाजे तक सेवा देना। लेकिन इस सर्विस के लिए चार्ज लगेगा और यह देशभर में केंद्र सरकार के सभी पेंशनभोगियों को सुविधा मिलेगी।


UP: भागे-भागे घूम रहे IPS अधिकारी मणिलाल पाटीदार पर 25 हजार का पुरस्कार घोषित       कानपुर: दोस्त की नाबालिग बहन को अगवा कर किया गैंगरेप       निजी बस ऑपरेटरों ने चार दिन बाद ही सिटी में बसें चलाना किया कम       भद्रवाड़ के थुरड़ गांव में मकान में लगी आग       स्वर्ग जैसा दिखेगा काशी के घाटों का नजारा       सिख विरोधी दंगा: 25 दंगाइयों की शिनाख्त, सत्यापन के बाद गिरफ्तारी       मालदीव में वेकेशन एंजॉय कर रहीं सोफी चौधरी, हॉट तस्वीरों से सोशल मीडिया पर ढाया कहर       Corona in Kanpur: 120 नए संक्रमित मिले, अब तक 778 मौतें       अनुष्का, किआरा को पीछे छोड़ इस एक्ट्रेस ने मारी बाजी, बन गईं सबके दिल की रानी       इस खास वजह से टूट जाएगी 95 सालों से चली आ रही परंपरा       हाथरस गैंगरेप केस में हुई ब्रेन फिंगरप्रिंटिंग, जाने कौन निकला दोषी       दूल्हे के घर चल रही थी बारात ले जाने की तैयारी उधर दुल्हन ही हो गयी मौत       श्वेता संग इस दिन शादी करने जा रहे ये सिंगर, मंदिर में लेंगे सात फेरे       वेकेशन एंजॉय कर वापस लौटीं सोनाक्षी सिन्हा, खूबसूरत तस्वीर शेयर कर बोलीं...       प्रदेश सरकार के ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा बोले, अवर अभियंता कंज़्यूमरों के प्रति व्यवहार रखे अच्छा       Prayagraj Corona Update: 24 घंटे में 88 लोगों की रिपोर्ट आओ पॉज़िटिव, एक की मौत       तारा सुतारिया का बोल्ड अंदाज, देख हो जाएंगे दीवाने       वरमाला के दौरान दूल्हे के पेट में हुआ दर्द, हॉस्पिटल लेकर पहुंचे तो रिपोर्ट देख दंग रह गये सब       आगरा में कोविड-19 का कहर : दिसंबर से बाजारों में बढ़ेगी कठोरता , लागू हुई नई गाइडलाइन       कार्तिक पूर्णिमा 2020 : कोरोना संकट के बीच श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी