Apple, Xiaomi और Realme रहीं पीछे, 5G स्मार्टफोन में इन कंपनियों ने मारी बाजी

Apple, Xiaomi और Realme रहीं पीछे, 5G स्मार्टफोन में इन कंपनियों ने मारी बाजी

भारत समेत दुनियाभर में Apple और Xiaomi 4G स्मार्टफोन की टॉप कंपनियां है।लेकिन 5G स्मार्टफोन में Apple और Samsung पीछे छूट रही हैं। इस लिस्ट में Samsung और Vivo जैसी कंपनियां तेजी से जगह बना रही हैं। नई रिपोर्ट के मुताबिक Samsung और Vivo साल 2021 की पहली तिमाही में दुनिया में सबसे तेज गति से बढ़ने वाले स्मार्टफोन ब्रांड हैं।

किस कंपनी की कितनी रही ग्रोथ रेट 

स्ट्रैटजी एनालिस्ट की नई रिसर्च के मुताबिक साउथ कोरियाई टेक कंपनी Samsung पिछले साल के मुकाबले इस साल की पहली तिमाही में 79 फीसदी की ग्रोथ हासिल की है। वहीं Vivo की ग्रोथ रेट में 62 फीसदी का इजाफा दर्ज किया गया है। स्ट्रैटजी एनालिस्ट के डायरेक्टर ken Hyers के मुताबिक पिछली तिमाही के मुकाबले ग्लोबल 5G स्मार्टफोन शिपमेंट में 6 फीसदी की ग्रोथ हासिल हुई है। इस तरह पहली तिमाही में 5G स्मार्टफोन शिपमेंट का आंकड़ा 16 मिलियन पहुंच गया है। ken Hyers ने बताया कि 5G स्मार्टफोन की डिमांड में तेजी बनी हुई है। खासकर चीन, अमेरिका और वेस्टर्न यूरोप से 5G स्मार्टफोन की सबसे ज्यादा डिमांड आ रही है। ऐसे में उम्मीद है कि इस साल के अंत तक 5G स्मार्टफोन की शिपमेंट का आंकड़ा 624 मिलियन पार कर सकता है, जो साल 2020 के दौरान 269 मिलियन था।

5G में किस ब्रांड ने मारी बाजी

स्ट्रैटजी एनालिस्ट के एसोसिएट डायरेक्टर Ville Petteri Ukonaho की मानें, तो Samsung 5G स्मार्टफोन Galaxy S21 5G, S21 ultra 5G और S21+ 5G काफी अच्छा कर रहे हैं। Vivo साल 2021 की पहली तिमाही की दूसरी सबसे तेज गति से बढ़ने वाली 5G स्मार्टफोन कंपनी है। पिछली तिमाही के मुकाबले Vivo के 5G स्मार्टफोन में 62 फीसदी का इजाफा हुआ है। ऐसा iQOO U3 5G और IQOO U7 5G स्मार्टफोन के उम्दा प्रदर्शन की वजह से हुआ है। इसके बाद 55 फीसदी इजाफे के साथ OPPO का नंबर आता है। फिर 41 फीसदी के साथ Xiaomi का नंबर आता है। जबकि Apple के 5G स्मार्टफोन में पिछली तिमाही के मुकाबले 23 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है।


कार के नंबर को लेकर एक बार फिर लोगों में दिखी दीवानगी

कार के नंबर को लेकर एक बार फिर लोगों में दिखी दीवानगी

दुनिया भर में फैंसी रजिस्ट्रेशन नंबर को लेकर दीवानगी कम नहीं है। हम कई बार इस तरह की खबरें सुनते हैं, लेकिन आज यह खबर किसी देश से नहीं बल्कि भारत से ही है। दरसअल, इंदौर के क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (RTO) ने फैंसी नंबर 0001 को 5 लाख 21 हजार रुपये में सेल किया है। वहीं 0009 नंबर को 1 लाख 82 हजार में बेचा गया है।

हमेशा से VIP नंबर को लेकर लोगों में दिखता है क्रेज

वाहन मालिकों ने इनके अलावा कई कार नंबरों में लगातार रुचि दिखाई है। इन नंबरों को खरीदने के पीछे आमतौर पर लोगों की जन्म तिथि, ज्योतिषीय रूप से महत्वपूर्ण संख्या, शुभ अंक या कुछ नाम रखने के लिए भाग्यशाली संख्या पर आधारित होती है। हालांकि यह यह पहली बार नहीं है जब लोगों ने फैंसी रजिस्ट्रेशन नंबर के लिए अपनी दीवानगी दिखाई है। 

साल 2017 में, "0001" वाली एक VIP कार को दिल्ली में 16 लाख रुपये में नीलाम किया गया था, बताते चलें, कि दिल्ली में रहने वाले अब अपने वाहन के फैंसी नंबरों के लिए ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं, क्योंकि परिवहन विभाग ने ई-नीलामी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ड्राफ्ट जमा करने की मौजूदा प्रणाली को खत्म करने का फैसला किया है।

इन नंबर के लिए कोई भी कर सकता है अप्लाई

वैसे हम आपको बता दें कि ऐसा नहीं है, कि इन नंबर को कोई बड़ी हस्ती ही हासिल कर सकती है, कोई भी सामान्य व्यक्ति इन नंबरों को प्राप्त कर सकता है क्योंकि ये ज्यादातर पहले आओ पहले पाओ के आधार पर उपलब्ध हैं। सभी उपलब्ध फैंसी नंबर वाहन पोर्टल पर सूचीबद्ध हैं। साइट पर जाने के लिए बस 'फैंसी नंबर' खोजें और पोर्टल खुल जाएगा। 


इसके बाद आप खुद को पंजीकृत कर सकते हैं, और साइट आपको अपनी खुद की यूजर आईडी रखने की अनुमति देती है। यह यूजर आईडी एक बार के उपयोग के लिए नहीं बल्कि जीवन भर के लिए है। इसलिए जब आप दूसरी खरीदारी करते हैं तो आप पांच साल बाद उसी आईडी का उपयोग कर सकते हैं। यह आईडी आपको निजी और व्यावसायिक दोनों, दो और चार पहिया वाहनों के लिए फैंसी नंबर प्राप्त करने की अनुमति देती है।