ट्रक में लिफ्ट दिया और चालक-खलासी करने लगे गंदा काम, बिहारशरीफ पहुंचने पर मिल ही गई सजा

ट्रक में लिफ्ट दिया और चालक-खलासी करने लगे गंदा काम, बिहारशरीफ पहुंचने पर मिल ही गई सजा

दीपनगर थाना क्षेत्र के मामू-भगीना पहाड़ के समीप एनएच 20 पर मंगलवार की रात एक ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गया। घटना के बाद चालक-खलासी फरार हो गया। जबकि ट्रक पर सवार एक महिला जख्मी हो गई। जख्मी महिला को इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया। इसके बाद भेद खुला। दरअसल महिला को लिफ्ट देकर चालक-खलासी ने उसके साथ छेड़खानी शुरू कर दी। इसी क्रम में जब के‍बिन में विरोध किया तो चालक का संतुलन बिगड़ गया और ट्रक बेकाबू होकर पलट गया। हालांकि पुलिस छेड़खानी की घटना से इंकार कर रही है। 

जबरन ट्रक रोकवाने का कर रही थी प्रयास 

इलाजरत महिला ने बताया कि वह बाजार समिति के पास सब्‍जी बेचती है। मंगलवार को इलाज कराने के लिए वह विम्‍स गई थी। वहां से लौटते समय देर हो गई। सड़क किनारे वह वाहन का इंतजार कर रही थी। इसी क्रम में ट्रक आकर रुका। चालक ने पूछा कि कहां जाना है। उसे जब बताया कि उसने कहा कि बिहारशरीफ पहुंचा देंगे। उसके कहने पर केबिन में बैठ गई। रास्‍ते में चालक और खलासी उससे अभद्र व्‍यवहार करने लगे। वह उनका विरोध कर रही थी लेकिन वे मनमानी कर रहे थे। बिहारशरीफ में जब चालक ने गाड़ी नहीं रोकी तो उसने जबरन रोकवाने का प्रयास किया। इसी क्रम में ट्रक पलट गया। इसके बाद उसे छोड़कर चालक और खलासी फरार हो गए।  


अपहरण मामले के फरार आरोपित युवक गिरफ्तार, लड़की का पता नहीं 

जिने के हिलसा से करीब एक साल पहले फरार नाबालिग लड़की के अपहरण के आरोपित युवक को पुलिस ने बुधवार को सूर्य मंदिर तालाब से गिरफ्तार किया है। बताया जाता है कि किराए के मकान में रह रही नाबालिग को बहला-फुसलाकर युवक 12 फरवरी 2020 को फरार हो गया था। युवती के स्वजन ने इस मामले में एक युवक को आरोपित किया था तब से वह फरार चल रहा था। पटना जिला के दनियावां थाना क्षेत्र के एरैय गांव निवासी स्व. गंगा चौधरी के पुत्र प्रमोद चौधरी हिलसा में किराए के भवन में 4 वर्षों तक रहा। इस दौरान मकान मालिक से अच्छी दोस्ती हो गई। इसी क्रम में इसकी नाबालिक लड़की को बहला-फुसलाकर लेकर फरार हो गया था। पुलिस गिरफ्तार युवक से कड़ी पूछताछ कर रही है। लड़की की मां और पिता ने बताया कि उनकी पुत्री को किसी के हाथों बेच दिया है।  गिरफ्तार युवक के बड़े भाई सुबोध चौधरी है वह भी गांव के बगल के गांव से एक लड़की को लेकर फरार हो गया था।  उस लड़की से शादी रचाई है।


हल्द्वानी में अघोषित बिजली कटौती से लोग परेशान, कॉल तक रिसीव नहीं करते अधिकारी

हल्द्वानी में अघोषित बिजली कटौती से लोग परेशान, कॉल तक रिसीव नहीं करते अधिकारी

शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की समस्या आम हो चुकी है। दिन में चार से पांच घंटे तक बिजली अघोषित कटौती ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। बिजली नहीं होने पर कई छोटे व बड़े कारोबार भी प्रभावित हो रहे हैं। लोगों को गुस्सा तब आता है जब अफसरों के कॉल रिसीव तक नहीं होते।

हल्द्वानी के शहर और ग्रामीण इलाकों में पिछले दो माह से बिजली की कटौती की जा रही है। बिजली नहीं होने पर घरों में काम तो प्रभावित हो ही रहे हैं, वहीं पानी के लिए भी लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। पानी की मोटर और नलकूप शोपिस बन रहे हैं। लोगों का कहना है कि गर्मी आने से पहले ऊर्जा निगम के अधिकारी लौपिंग चौपिंग के नाम पर घंटों रोस्टिंग करते हैं। इसके बावजूद गर्मी आने पर फिर अघोषित कटौती की जाती है। अधिकारियों को बिजली नहीं आने पर कॉल किया जाता है तो वह रिसीव नहीं किया जाता।

लोगों का कहना है कि चुनाव आने से पहले कांग्रेस, भाजपा व आम आदमी पार्टी प्रदेश को 300 यूनिट मुफ्ट बिजली देनी की बात कर रहे हैं। लेकिन अभी हो रही बिजली कटौती को लेकर कोई पार्टी सुध नहीं ले रही है। इधर, ऊर्जा निगम के अधिशासी अभियंता दीनदयाल पांगती का कहना है कि लाइन में फॉल्ट होने पर बिजली चली जाती है। बिजली को 24 घंटे सुचारू रखने के प्रयास किए जा रहे हैं।