गया में मछली मारने के दौरान दो लोगों की आहर में डूबने से मौत, गोताखोरों ने निकाला शव

गया में मछली मारने के दौरान दो लोगों की आहर में डूबने से मौत, गोताखोरों ने निकाला शव

गया जिले के इमामगंज प्रखण्ड में मछली मारने के दौरान आहर डूबने से अलग-अलग गांवों में दो लोगों की मौत हो गयी। इस सम्बंध में थानाध्यक्ष नईयर एजाज अहमद ने बताया कि बिश्रामपुर गांव के गोल्डेन कुमार उम्र 20 वर्ष पिता विमल सिंह रविवार को सुबह गांव के बगल में रामसागर आहर में मछली मारने गया था। उसी दौरान आहर में डूबने से उसकी घटना स्थल पर ही मौत हो गयी। वहीं दूसरी घटना परसिया गांव की है। जहां गांव के ही नागेश्वर मांझी उम्र 55 वर्ष वह शौच करने के बाद मछली मारने के लिए भुईयां आहर में उतरा जिसमें अधिक पानी होने के कारण डूबकर मौत हो गयी।

थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों शवों को स्थानीय गोताखोरों व नागरिकों के सहयोग से आहर से बाहर निकाला गया और दोनों शवों को पोस्मार्टम के लिए मगध मेडिकल कालेज गया भेज दिया गया। इधर मल्हारी पंचायत के बिश्रामपुर गांव निवासी पूर्व मुखिया राजीव रंजन सिंह, उर्फ बिटू सिंह व मुखिया प्रतिभा सिंह ने बताया कि गोल्डेन कुमार काफी गरीब परिवार से आता था। वह आटो चलाकर पूरे परिवार का भरण पोषण कुछ सालों से कर रहा था।


कमाऊ सदस्य की मौत हो जाने के बाद पूरा परिवार टूट गया। ग्रामीण बतातें हैं कि गोल्डेन कुमार जब से आटो चलाकर कमाने लगा था। उसी समय से उसके माता पिता को उसकी शादी करने की तैयारी चल रही थी। लेकिन उसकी असमय मौत हो जाने से उसके वृद्ध माता पिता का सपना अधूरा रह गया और उनका जीवन नरकमय बन गया है। दोनों को रोरोकर बुरा हाल है। वहीं नागेश्वर मांझी भी घर का कमाऊ सदस्य था। उसके भी मौत होने से घर में कोहराम मच गया और पत्नी व बच्चों को रो-रोकर बुरा हाल है।


बिहार में टूट गया महागठबंधन! भक्त चरण दास का बड़ा बयान-2024 में लोकसभा की सभी 40 सीटों पर अकेले लड़ेगी कांग्रेस

बिहार में टूट गया महागठबंधन! भक्त चरण दास का बड़ा बयान-2024 में लोकसभा की सभी 40 सीटों पर अकेले लड़ेगी कांग्रेस

पटना कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार और हार्दिक पटेल (Congress leader Kanhaiya Kumar and Hardik Patel) के बिहार दौरे के बीच प्रदेश कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास (Bihar Congress in-charge Bhakt Charan Das0 ने पटना पहुंचते ही बड़ा बयान देते हुए बोला है कि महागठबंधन (Mahagathbandhan) टूटने का बस अब औपचारिक ऐलान भर होना बाकी है  पटना एयरपोर्ट पर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए उन्होंने बोला कि हम चुनाव जमकर लड़ रहे हैं और अपनी ताकत पर लड़ रहे हैं कांग्रेस पार्टी प्रभारी ने बोला कि कांग्रेस पार्टी 2024 के लोकसभा चुनाव में बिहार की सभी 40 संसदीय सीटों पर अकेले ही  चुनाव लड़ेगी कांग्रेस पार्टी प्रभारी ने साफ किया कि आरजेडी ने महागठबंधन धर्म का पालन नहीं किया इस कारण उपचुनाव में हम पूरी ताकत से लड़ रहे हैं हमारे सभी नेता बिहार पहुंच चुके हैं और जमकर चुनाव प्रचार कर रहे हैं

वहीं, राजद सांसद मनोज झा के कांग्रेसियों को संघी कहे जाने पर कांग्रेस पार्टी प्रभारी भक्त चरण दास ने बोला कि उन्होंने क्या बोला यह हम नहीं जानते हैं हम बस इतना जानते हैं कि हमने गठबंधन नहीं तोड़ा कांग्रेस पार्टी प्रभारी भक्त चरण दास ने तो यहां तक कह दिया कि उपचुनाव के बाद आरजेडी भाजपा से मिल जाएगी इसके बाद राजद प्रतिनिधि मनोज झा ने भी कांग्रेस पार्टी प्रभारी भक्त चरण दास को संघी कह दिया था  जाहिर है कथित तौर पर बीजेपी विरोधी दोनों पार्टियों की लड़ाई अब इस स्तर तक पहुंच गई है कि दोनों ही पार्टियां एक दूसरे को बीजेपी का सहयोगी साबित करने पर तुल गई है

बता दें कि बिहार में दो विधानसभा सीटों (तारापुर और कुशेश्वरस्थान)  पर हो रहे उपचुनाव ने महागठबंधन की एकजुटता के तमाम वादों की हवा निकाल दी है जहां पहले राजद ने दोनों जगहों से अपने उमीदवार खड़े किए, वहीं बाद में कांग्रेस पार्टी ने भी दोनों जगहों से अपने उमीदवार मैदान में उतार दिए   उपचुनाव में दोनों पार्टियों के उमीदवार देने के बाद बयानों का दौर चलना प्रारम्भ हो गया और दोनों दलों के नेताओंं के बयानबाजियों से  तो यही लग रहा है कि दोनों के बीच गठबंधन भी है